भाजपा समर्थित पार्षद प्रकाश धामी की हत्या में शामिल एक अभियुक्त को पुलिस ने अलीगढ़ से गिरफ्तार किया है,

रुद्रपुर(उधम सिंह नगर)31 अक्टूबर।भाजपा समर्थित पार्षद प्रकाश धामी की हत्या में शामिल एक अभियुक्त को पुलिस ने अलीगढ़ से गिरफ्तार किया है,जबकि इस घटना का मुख्य साजिशकर्ता पूर्व पार्षद राजेश गंगवार व उसका छोटा भाई अन्नू गंगवार अभी भी पुलिस की पहुंच से कोसो दूर बने हुए है।
दरअसल धामी हत्याकांड के पीछे की कहानी आपसी प्रतिद्वंदिता व राजनीति से जुड़ी हुई है।जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दलीप सिंह कुँवर ने घटना का खुलासा करते हुए बताया कि वर्ष 2017 में भदईपुरा के पूर्व सभासद राजेश गंगवार पर कुछ लोगो ने जानलेवा हमला किया था।पार्षद धामी द्वारा इन हमलावरों की पैरवी की जा रही थी।इसके अलावा प्रकाश धामी निर्विरोध नगर निगम सभासद चुने गए थे,चूंकि भदईपुरा से राजेश व उसके परिजन कई बार पार्षद चुने गए थे,इस कारण राजेश व उसका भाई अन्नू गंगवार पार्षद प्रकाश धामी से रंजिश रखने लगे ।दोनों भाइयों ने धामी को अपने रास्ते से हटाने का निर्णय ले लिया और सितारगंज निवासी दिनेशपुर के साथ मिलकर अन्य राज्यों के पेशेवर हत्यारों को पार्षद धामी की हत्या के लिए 4 लाख रुपये की सुपारी दे दी।इतना ही नही गंगवार भाइयो ने हत्यारों को घटना के 10 दिन पहले ही बरेली बुलाकर पिस्टल,तमंचा व कार उपलब्ध करा दी।शूटरों को प्रकाश धामी की फोटो दिखाकर व घर दिखाकर रेकी भी कराई।
एसएसपी कुँवर ने बताया कि 12 अक्टूबर को चारों हत्यारे दिनेश शर्मा के साथ कार में फर्जी नम्बर लगाकर पार्षद के घर पहुंचे और निगम सम्बन्धी किसी कार्य का हवाला देकर पार्षद धामी को घर से बाहर बुला लिया और ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।जिससे धामी की मौत हो गयी।घटना को अंजाम देकर सारे अपराधी उत्तर प्रदेश की तरफ भाग गए। उन्होंने बताया कि पुलिस के संदेह के पश्चात राजेश व अन्नू गंगवार भी फरार हो गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *