बिग ब्रेकिंग :- विधानसभा भर्तियों पर गिरी गाज, तदर्थ भर्तियां निरस्थ, सचिव मुकेश सिंघल निलंबित

Spread the love

देहरादून उत्तराखंड विधानसभा भर्तियों से जुड़ी हुई बड़ी खबर सामने आ रही है तदर्थ नियुक्तियों के मामले को लेकर विधानसभा अध्यक्ष नहीं सभी नियुक्तियों को निरस्त करने का बड़ा फैसला लिया है साथ ही विधानसभा के सचिव मुकेश सिंघल को निलंबित कर दिया है. उत्तराखंड में भर्तियों को निरस्त किए जाने के बाद पिछले लंबे समय से उत्तराखंड में भर्ती प्रक्रिया को लेकर चल रहा राजनीतिक पार्टियों का विरोध भी फिलहाल थम जाएगा.

23 सितम्बर को विधानसभा अध्यक्ष ने की घोषणा

देर रात विशेषज्ञ समिति ने अपनी रिपोर्ट विधानसभा अध्यक्ष को दी

विधानसभा अध्यक्ष ने समिति के सदस्यों की तारीफ की

कहा समिति ने सराहनीय कार्य किया हैं

समिति ने पाया की जो तमाम तदर्थ नियुक्तियां की थी उसमे अनियमितता की गई हैं

समिति ने तमाम नियुक्तियों को निरस्त करने की सिफारिश की गई

विधानसभा अध्यक्ष ने साफ कहा कि

2016 की 150 पद

2020 तक की 6

2021 तक की 72 भर्ती निरस्त

नियुक्ति के लिए ना परीक्षा आयोजित की गई और ना ही किसी तरह की विज्ञप्ति जारी की गई

6 फरवरी 2003 के आदेश के अनुसार तमाम तदर्थ

तमाम नियुक्ति को निरस्त करने के लिए विधानसभा अध्यक्ष ने फैसला लिया

शासन को भेजा जाएगा प्रस्ताव

उपनल द्वारा की गई भर्ती भी की गई निरस्त

32 पदों पर हुई परीक्षा हुई निरस्त

मुकेश सिंघल हुए निलंबित

Leave a Reply

Your email address will not be published.