मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मत्स्य पालक दिवस पर मत्स्य पालकों के लिए की बड़ी घोषणा

Spread the love

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने रविवार को आईआरडीटी सभागार सर्वे चौक, देहरादून में मत्स्य विभाग द्वारा राष्ट्रीय मत्स्य पालन दिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री ने मत्स्य निदेशालय, बड़ासी ग्रांट, देहरादून में स्थापित होने वाले मत्स्य प्रसंस्करण यूनिट का शिलान्यास किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि राज्य में मत्स्य पालन को बढ़ावा देने हेतु प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना की तर्ज पर मुख्यमंत्री मत्स्य संपदा योजना प्रारंभ की जायेगी। मत्स्य पालन को कृषि का दर्जा देते हुए मत्स्य पालन में लगने वाली विद्युत दरों को कृषि दरों पर निर्धारित किया जायेगा। गढ़वाल एवं कुमाऊं में मत्स्य पालकों की सुविधा हेतु मत्स्य मंडी की स्थापना किए जाने की घोषणा भी मुख्यमंत्री द्वारा की गई।

राष्ट्रीय मत्स्य पालक दिवस के अवसर पर एक दिवसीय राज्य स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी और पशुपालन मंत्री सौरव बहुगुणा शामिल हुए। सीएम धामी ने मत्स्य पालन अच्छा कार्य कर रहे मत्स्य पालकों को सम्मानित किया। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि रोजगार केवल सरकारी नौकरी से पूरा नहीं होगा इस प्रकार के स्वरोजगार से लोगों को रोजगार मिलेगा। सीएम धामी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का सपना है चाहे मत्स्य पालन के क्षेत्र में हो, कृषि के क्षेत्र में हो सभी योजनाओं को धरातल पर उतारना है।

 

कैबिनेट मंत्री सौरभ बहुगुणा ने कहा कि उत्तराखंड के जितने भी मत्स्य पालक हैं उत्तराखंड के लिए जो मत्स्य पालक अच्छा काम कर रहे हैं उन मत्स्य पालक और फील्ड अधिकारियों को आज इस कार्यक्रम के तहत आज सम्मानित किया गया। इसके साथ आने वाले 5 सालों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक सपना है मत्स्य पालक में लोगों को अच्छा रोजगार मिले।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.