Uttarakhand Newsउत्तराखंडदेहरादून

ग्राफिक एरा अस्पताल को मेडिकल कॉलेज के रूप में मिली मान्यता, पहले सत्र में मिली MBBS की 150 सीटों के साथ कोर्स शुरू करने क़ी स्वीकृति।

देहरादून। अत्याधुनिक तकनीकों और सुविधाओं से सुसज्जित ग्राफिक एरा अस्पताल को मेडिकल कालेज के रूप में मान्यता मिल गई। नेशनल मेडिकल कमीशन ने ग्राफिक एरा में 150 सीटों के साथ एमबीबीएस कोर्स शुरु करने की स्वीकृति दे दी है।

नेशनल मेडिकल कमीशन ने अपने पहले इंस्पेक्शन में ही ग्राफिक एरा अस्पताल (ग्राफिक एरा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साईंसेज) की व्यवस्थाओं को अच्छी पाते हुए एमबीबीएस कोर्स शुरू करने की स्वीकृति दी है। इंस्पेक्शन के लिए अलग अलग राज्यों के पांच एक्सपर्ट ग्राफिक एरा भेजे गए थे। सघन निरीक्षण और परीक्षण के बाद नेशनल मेडिकल कमीशन ने यह कदम उठाया है। नेशनल मेडिकल कमीशन के मेडिकल एसेसमेंट एंड रेटिंग बोर्ड ने आज ग्राफिक एरा के मेडिकल कालेज को वर्ष 2024-25 से एमबीबीएस की 150 सीटों के लिए मान्यता दे दी है।

इसके लिए बोर्ड के सदस्य/अध्यक्ष ने आज पत्र जारी किया है। इस पत्र की प्रति राज्य और केंद्र सरकार के संबंधित विभागों को भेजी गई है। इससे पहले राज्य सरकार ने अस्पताल की व्यवस्थाओं और सुविधाओं का निरीक्षण कराकर ग्राफिक एरा अस्पताल के लिए एसेंसियल्टी सार्टीफिकेट जारी किया था। ग्राफिक एरा अस्पताल के विशेषज्ञों ने ऐसे दर्जनों जटिल और दुर्लभ आपरेशन करके लोगों की जीवन रक्षा में सफलता प्राप्त की है जो पहले उत्तराखंड में नहीं होते थे। अत्याधुनिक कैथ लैब, थ्री टेक्सला एमआरआई, 128 स्लाइस के सीटी स्कैन समेत समेत एकदम नई तकनीकें, सुसज्जित व सुविधाजनक ढांचागत व्यवस्थाएं उपलब्ध हैं।

पिछले चार वर्षों से देश के सर्वश्रेष्ठ सौ विश्वविद्यालयों में जगह पाने वाली ग्राफिक एरा डीम्ड यूनिवर्सिटी को केंद्र सरकार ने वर्ष 2023 में देश भर में 55 वीं रैंक दी थी। इसी के एक अंग के रूप में ग्राफिक एरा इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साईंसेज की स्थापना की गई है। ग्राफिक एरा का यह मेडिकल कालेज उत्तराखंड का ऐसा इकलौता मेडिकल कालेज है जो डीम्ड यूनिवर्सिटी से जुड़ा है। डीम्ड यूनिवर्सिटी सीधे केंद्र के नियंत्रण में होने के कारण ग्राफिक एरा के मेडिकल कालेज में एमबीबीएस की सीटों का आवंटन सेंट्रल काउंसलिंग के जरिये केंद्र सरकार की मेडिकल काउंसलिंग कमेटी करेगी।

पहले ही इंस्पेक्शन के बाद पूरी सीटें मिल जाने से ग्राफिक एरा में खुशी की लहर दौड़ गई है। मेडिकल कालेज और विश्वविद्यालय में मिठाइयां बांटकर अधिकारियों और कर्मचारियों ने अपनी खुशी जाहिर की। ग्राफिक एरा ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशंस के चेयरमैन डॉ कमल घनशाला ने इस शानदार कामयाबी को समूचे उत्तराखंड की उपलब्धि करार देते हुए इसके लिए मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी और स्वास्थ्य मंत्री डॉ धन सिंह रावत का आभार व्यक्त किया। उन्होंने अस्पताल और मेडिकल कालेज की पूरी टीम को बधाई दी। डॉ घनशाला ने कहा कि अत्याधुनिक इंफ्रास्ट्रेक्टर और उपकरणों के साथ ही बहुत अनुभवी विशेषज्ञों वाले ग्राफिक एरा अस्पताल में अपनेपन के अहसास के साथ चिकित्सा सेवा उपलब्ध कराई जा रही है।

छोटे बच्चों को पेस मेकर लगाने, दिल के छेद का उपचार, नई तकनीक से हार्ट के वाल्ब बदलने, जापान की तकनीक पोयम के जरिये 25 से अधिक लोगों की अवरुद्ध आहार नली खोलने आदि के कारण ग्राफिक एरा अस्पताल कुछ ही वर्षों में आम लोगों के भरोसे से जुड़ गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *