दोस्त यश के टुकड़े टुकड़े कर नाले में फेंका पुलिस ने दबोचे शाहवेज, इमरान, सलमान और अलीजान

Spread the love

मेरठ :-  बहुत दिनों से हिंदुस्तान में हिंदुओं की हत्याओं का दौर जारी है मरने वालों में अनगिनत नाम के नाम गिने जा सकते हैं और लगभग सभी को गला काट कर मारा गया है परंतु यहां जो मामला सामने आया है वह गर्दन काटने का नहीं बल्कि गर्दन दबाकर मारने का है और उसके बाद शव के कई टुकड़े कर देने का है।

कुकर्म भी किया गया

मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के मेरठ में एक एलएलबी के छात्र की पहले गला दबाकर और चाकुओं से गोद गोद कर हत्या की गई, फिर उसके बाद उसके शव के कई टुकड़े करके नाले में फेंक दिया गया। 
 इस घटना मैं मृतक के शव को पुलिस ने 2 जुलाई 2022 शनिवार की रात को खिलाड़ी गेट के नजदीक पीलो खड़ी नाले में से बरामद किया है। पता चला है की यश रस्तोगी का कत्ल करने से पहले उसके साथ कुकर्म भी किया गया था। इसके बारे में सिटी एसपी विनीत भटनागर ने बताया है कि मृतक मेडिकल थाना के जागृति विहार के सेक्टर 6 का रहने वाला था। कानून की पढ़ाई करने वाला यश रस्तोगी 26 जून 2022 की शाम को अपने स्कूटर पर घर से निकला था।

सब कुछ साफ-साफ बता दिया

जाने से पहले उसने अपने घर वालों से कहा था कि वह जल्दी ही वापस आ रहा है परंतु जब वह लौट कर वापस नहीं आया है तो चिंतित परिजनों ने थाने में जाकर इसकी रिपोर्ट दर्ज करवा दी। पुलिस ने सूचना मिलने पर यश रस्तोगी के मोबाइल लोकेशन और सीडीआर की जांच के आधार पर मृतक के दोस्तों को हिरासत में लेकर उनसे पूछताछ की। मृतक के पकड़े गए चारों दोस्तों ने पहले पुलिस को चकमा देने की कोशिश की परंतु जब उनसे थोड़ी सख्ती की गई तो उन्होंने सब कुछ साफ-साफ बता दिया। पुलिस के अनुसार उसके दोस्तों का कहना है कि वह यश रस्तोगी का फोन देखना चाहते थे जिस पर मृतक ने मना कर दिया। इस पर उनकी यश के साथ गाली गलौज हो गई तब उन्होंने गुस्से में आकर यश का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी तथा साथ ही उसको कई बार चाकुओं से भी घायल किया।

ताकि इस मुस्लिम बहुल क्षेत्र में मुस्लिम भीड़ कोई हंगामा ना करे

इसके बाद आरोपियों ने मृतक के शव को खुर्द फुर्द करने के लिए उसके शरीर को कई टुकड़ों में काटकर एक बोरे में डाल दिया, और ले जाकर नाले में फेंक दिया। पुलिस के अनुसार मेरठ का हापुड़ अड्डा, खिलाड़ी गेट और शास्त्री नगर अत्यंत संवेदनशील क्षेत्र हैं इस कारण इस मामले में काफी स्तता सतर्कता बरती गई तथा पुलिस की भारी संख्या में तैनाती की गई ताकि इस मुस्लिम बहुल क्षेत्र में मुस्लिम भीड़ कोई हंगामा ना करे। बता दें की यश रस्तोगी को मरने वालों के नाम शाहबाज, सलमान, इमरान और अलीजान हैं। इस कारण तीन थानों की पुलिस और अधिकारियों की देखरेख में शव को बरामद किया गया। पुलिस द्वारा बताया गया है कि हत्या के समय यश रस्तोगी के मुंह में कपड़ा ठूंस दिया गया था ताकि वह चिल्ला ना सके।

इस बारे में पुलिस ने और आगे बताया है की मृतक के परिजनों ने यश रस्तोगी के गायब होने की सूचना मेडिकल थाना पुलिस में दी थी, जिस पर मामला दर्ज कर लिया गया था। उसके बाद सीसीटीवी फुटेज और सर्विलांस की मदद से यह 3 गिरफ्तारियां हुई हैं। बताने की आवश्यकता नहीं है कि हाल ही में इससे पहले अमरावती में उमेश कुमार नाम के व्यक्ति का गला काट कर हत्या कर दी गई थी, उसके बाद उदयपुर में एक दर्जी कन्हैया लाल की भी गला काटकर निर्मम हत्या की गई है।

न्यूज़ सोर्स

Leave a Reply

Your email address will not be published.