टिहरी पुलिस ने NGO संचालक से 27 लाख रुपये की धोखाधड़ी के एक मामले में विदेशी नागरिक की भारतीय प्रेमिका सहित नोएडा से किया गिरफ्तार

Spread the love

 

 

 

टिहरी जनपद के घनसाली निवासी एक व्यक्ति से 27 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने के आरोपित नाइजीरिया का नागरिक और एक नागालैंड निवासी महिला को पुलिस ने नोएडा से गिरफ्तार किया है। दोनों लिव इन रिलेशन में रह रहे थे। दोनों का एक बेटा भी है।

एसएसपी टिहरी नवनीत सिंह भुल्लर ने बताया कि लक्ष्मी प्रसाद सेमवाल निवासी घनसाली टिहरी एनजीओ संचालित करते हैं। पिछले साल इन्हें बैंक अधिकारी बनकर नाइजीरिया का नागरिक इरीभोग जेरोम विक्टर ने फोन किया और ग्रामीण क्षेत्र में विकास के लिए 11 करोड़ रुपये देने का प्रलोभन दिया। लक्ष्मी प्रसाद
सेमवाल उसकी बातों में आ गए और उन्होंने अलग-अलग खातों में 27 लाख 28 हजार 500 रुपये जमा कराए। लेकिन सेमवाल के खातों में कोई रुपये नहीं आया। उसके बाद लक्ष्मी प्रसाद सेमवाल ने घनसाली थाना में अज्ञात आरोपित के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने इस मामले में सीसीटीवी फुटेज और काल डिटेल के आधार पर नोएडा से नाइजिरिया के नागरिक इरीभोग जेरोम विक्टर और नागालैंड निवासी महिला ल्यांग पिखुम्ला चांग को गिरफ्तार किया है। दोनों ने अलग अलग एटीएम कार्ड से धनराशि निकाली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.