उत्तराखंड विधान सभा अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल ने जनपद रुद्रप्रयाग में त्रियुगीनारायण मंदिर में पहुँचकर विधिवत पूजा अर्चना की एवं प्रदेश की सुख समृद्धि एवं ख़ुशहाली के लिए कामना की।

उखीमठ से लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट

ऊखीमठ । उत्तराखंड विधान सभा अध्यक्ष प्रेमचन्द्र अग्रवाल ने अपने चार दिवसीय गढ़वाल भ्रमण कार्यक्रम के तहत रविवार को जनपद रुद्रप्रयाग में त्रियुगीनारायण मंदिर में पहुँचकर विधिवत पूजा अर्चना की एवं प्रदेश की सुख समृद्धि एवं ख़ुशहाली के लिए कामना की।अवगत करा दें विधानसभा अध्यक्ष के शनिवार को जनपद रुद्रप्रयाग पहुँचने पर अगस्तमुनि में रुद्रप्रयाग विधायक भरत चौधरी सहित जन प्रतिनिधियों एवं कार्यकर्ताओं द्वारा उनका फूल मालाओं से ज़ोरदार स्वागत किया गया वहीं विधानसभाध्यक्ष ने कालीमठ में भी विशेष पूजा अर्चना की। इस दौरान जगह- जगह पर कार्यकर्ताओं द्वारा विधानसभा अध्यक्ष का स्वागत किया गया।

गुप्तकाशी में केदारनाथ विधायक मनोज रावत सहित कई अन्य जनप्रतिनिधियों द्वारा विधानसभा अध्यक्ष से शिष्टाचार भेंट की गई। विधानसभा अध्यक्ष ने इस दौरान क्षेत्र की समस्याओं को भी सुना एवं कई समस्याओं का संबंधित विभाग के अधिकारियों से वार्ता कर निराकरण भी किया।इस दौरान कार्यकर्ताओं में ख़ासा उत्साह देखने को मिला!विधानसभा अध्यक्ष ने रविवार को गुप्तकाशी में विश्वनाथ जी के दर्शन करने के बाद त्रियुगीनारायण के दर्शन किए साथ ही ऊखीमठ में ओकारेश्वर मंदिर में भी परिवार सहित पूजा अर्चना की।इस दौरान पत्रकारों से बातचीत के दौरान विधानसभाध्यक्ष ने आगामी बजट सत्र को लेकर कहा कि बजट सत्र किसी भी सरकार का महत्वपूर्ण सत्र होता है और उनके इस भ्रमण का मुख्य उद्देश्य गैरसैंण में होने वाला बजट सत्र है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड के इतिहास में पहली बार उनके ही कार्यकाल में गैरसैंण में पहला बजट सत्र हुआ था और ग्रीष्मकालीन राजधानी बनने के बाद पहली बार सरकार ने निर्णय लिया है कि बजट सत्र गैरसैंण में होगा, जिसकी तैयारियों का जायजा लेने वे विधान सभा भराड़ीसैंण जा रहे हैं। कहा कि राज्य सरकार ने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित किया है और लगभग 25 हजार करोड़ रूपये की धनराशि से गैरसैंण के आस-पास के क्षेत्र का विकास किया जायेगा। कहा कि जब वे विधान सभा अध्यक्ष बने तो उन्होंने परम्परा बनाई कि विधान सभा भवन भराड़ीसैंण में राष्ट्रीय पर्व मनायेंगे और ध्वजारोहण करेंगे।

उन्होंने कहा कि 26 जनवरी, 2021 को भराड़ीसैंण में आयोजित ध्वजारोहण कार्यक्रम में मैधावी छात्र-छात्राओं व उत्कृष्ठ कार्य करने वालों को सम्मानित किया जायेगा। जनप्रतिनिधियों के कार्य के संबंध में उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधि बनने के बाद उनकी जिम्मेदारियां बढ़ जाती है, और उन्हें जनता की अपेक्षाओं पर खरा उतरना चाहिए। तत्पश्चात् अध्यक्ष जी ने आॅलवेदर रोड़ का निरीक्षण करते हुए चौपता होते हुए चमोली जनपद के लिए प्रस्थान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *