ऋषिकेशकोटद्वारस्वास्थ्य

विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने एम्स में डिजिटल हेल्थ सर्विसेज के अन्तर्गत टेलिमेडिसिन सेवा का उद्घाटन किया

 

इस योजना के तहत अब बेस अस्पताल कोटद्वार के मरीजों को भी एम्स ऋषिकेश की टेलिमेडिसिन सेवा द्वारा चिकित्सीय परामर्श मिल सकेगा

 

 

ऋषिकेश 18 अक्टूबर| विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खंडूड़ी भूषण ने एम्स में डिजिटल हेल्थ सर्विसेज के अन्तर्गत टेलिमेडिसिन सेवा का उद्घाटन किया। इस योजना के तहत अब बेस अस्पताल कोटद्वार के मरीजों को भी एम्स ऋषिकेश की टेलिमेडिसिन सेवा द्वारा चिकित्सीय परामर्श मिल सकेगा। इस अवसर पर एम्स के चिकित्सकों ने बेस अस्पताल कोटद्वार में मौजूद मरीजों को लाईव परामर्श भी दिया।
मंगलवार को विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खण्डूडी ने एम्स संस्थान के डिजिटल हेल्थ सर्विसेज का उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि इस सेवा के शुरू होने से दूर-दराज के क्षेत्रों के मरीजों को टेलिमेडिसिन के माध्यम से अपने क्षेत्र के नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्रों पर स्वास्थ्य परामर्श मिल सकेेगा। कहा कि यह सुविधा उत्तराखण्ड के जन-स्वास्थ्य के लिए मील का पत्थर साबित होगी। इस दौरान स्त्री रोग विभाग की विभागाध्यक्ष प्रो. जया चतुर्वेदी ने एम्स की डिजिटल हेल्थ सर्विसेज से जुड़े बेस अस्पताल कोटद्वार के महिला रोगियों को चिकित्सीय परामर्श भी दिया। विधानसभा अध्यक्ष ने एम्स के ओपीडी एरिया में मंगलवार को ही रोगी सहायता केन्द्र का भी उद्घाटन भी किया। उन्होंने इन नए केन्द्रों को एम्स में इलाज करवाने वाले आम मरीजों तथा उनके तीमारदारों के लिए विशेष लाभकारी बताया। विधानसभा अध्यक्ष ने एम्स द्वारा उपलब्ध करवायी जा रही स्वास्थ्य सेवाओं पर संतोष व्यक्त किया और उम्मीद जतायी कि एम्स भविष्य में उत्तराखण्ड के अन्य मेडिकल कॉलेजों को साथ लेकर स्वास्थ्य सुविधाओं को भी मजबूत करने मे मदद करेगा। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने एम्स प्रांगण में पौधारोपण भी किया।
कार्यक्रम के दौरान एम्स की कार्यकारी निदेशक प्रोफेसर डॉ. मीनू सिंह ने बताया कि संस्थान की डिजिटल हेल्थ सर्विस से शीघ्र ही लाल बहादुर शास्त्री आईएएस प्रशिक्षण अकादमी मसूरी को भी जोड़ा जाएगा। इस सुविधा से अकादमी से जुड़े लोग भी एम्स के चिकित्सकों से टेलिमेडिसिन द्वारा परामर्श का लाभ ले सकेंगे। कहा कि आवश्यकता पड़ने पर टेलि परामर्श की सुविधा को राज्य के सुदूरवर्ती क्षेत्रों तक भी पहुचाया जाएगा।
एम्स में खोले गए रोगी सहायता केन्द्र के बारे में जानकारी देते हुए चिकित्सा अधीक्षक प्रो. संजीव कुमार मित्तल ने बताया कि इस रोगी सहायता केन्द्र में विभिन्न काउन्टर बनाए गए हैं। जिनमें आयुष्मान भारत योजना से जुड़ी सेवाएं और अस्पताल से सम्बन्धित विभिन्न सेवाओं की जानकारी उपलब्ध करवाने की सुविधा शामिल है। बताया कि इनमें एक काउंटर पर आयुष्मान भारत कार्ड तथा आयुष्मान भारत हेल्थ एकाउंट (आभा) कार्ड बनाने की सुविधा उपलब्ध होगी। जबकि दो अन्य काउन्टरों पर मरीजों तथा उनके तीमारदारों को अस्पताल सेवाओं से सम्बन्धित विभिन्न जानकारियां उपलब्ध करवायी जाएगी। कार्यक्रम के दौरान डीन एकेडेमिक प्रो. जया चतुर्वेदी, एमएस प्रो. संजीव कुमार मित्तल, डीएमएस डॉ. पूजा भदौरिया, ट्रॉमा सर्जन डॉ. मधुर उनियाल, उपनिदेशक प्रशासन ले. कर्नल ए.आर. मुखर्जी, वित्तीय सलाहकार ले.कर्नल डब्लू.एस. सिद्वार्थ, जनसंपर्क अधिकारी हरीश मोहन थपलियाल आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *