क्वींन ऑफ हिमालयी फ्लावर्स “ब्लूपॉपी” से सजी विश्व धरोहर फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान प्रकृति पर्यटन हेतु खुली

चमोली  :- कोरोना संकट के बीच प्रकृति पर्यटन प्रेमियों के लिए एक खुश खबरी है, उतराखंड…

देव भूमि उत्तराखंड में प्रकृति की अदभुत छटाओ से भरा है चन्द्र शिला शीर्ष!ऊखीमठ से लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट

ऊखीमठ! (लक्ष्मण सिंह नेगी) देवभूमि उत्तराखंड हिमालय के अन्तर्गत तुंगनाथ घाटी युगो से साधनास्थली रही है!…

(अच्छी खबर ) कोरोना से चौपट पर्यटन के लिये सूचीबद्ध कलाकारों,टैक्सी, कर्मियो को वन टाइम आर्थिक सहायता।

देहरादून  ;-सचिव पर्यटन एवं संस्कृति श्री दिलीप जावलकर ने बताया कि कोविड-19 के दृष्टिगत प्रदेश में…

कोरोना संक्रमण के चलते कार्तिक स्वामी तीर्थ के विगत तीन माह से वीरान होने के कारण क्षेत्र के व्यपारियों के सन्मुख रोजी – रोटी का संकट गहराया।ऊखीमठ से लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट

ऊखीमठ! वर्ष 1942 से जून माह में महायज्ञ व पुराणवाचन के आयोजन से गुलज़ार रहने वाला…

कुंभ मेला 2021 अपनी घोषित तिथियों पर ही होगाः श्रीमहंत हरिगिरि

कुंभ मेला 2021 अपनी घोषित तिथियों पर ही होगाः श्रीमहंत हरिगिरि अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री…

काली शिला तीर्थ में होती है भगवती के 64 यंत्रों की पूजा ! ऊखीमठ से लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट

ऊखीमठ – देवभूमि उत्तराखंड की पावन धरती धार्मिक, सांस्कृतिक और साहित्यिक दृष्टि से साधना के क्षेत्र…

हिमालय की गोद में स्थित केदार घाटी का सम्पूर्ण भूभाग प्राचीन काल से शान्ति, एकान्त और अप्रतिम सौन्दर्य के कारण ऋर्षि, मुनियों, तत्तविदो, विद्वानों और विधा के आश्रमो का देवालय रहा है! ऊखीमठ से लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट

ऊखीमठ – हिमालय की गोद में स्थित केदार घाटी का सम्पूर्ण भूभाग प्राचीन काल से शान्ति,…

चौखम्बा की तलहटी में,मन्दानी नदी के किनारे स्थित मनणा माई के दरबार में जो व्यक्ति अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करता है उसकी हर मनोकामना पूर्ण होती है!ऊखीमठ से वरिष्ठ पत्रकार लक्ष्मण सिंह नेगी की रिपोर्ट

ऊखीमठ! मदमहेश्वर घाटी के पर्यटक गाँव रासी से लगभग 32 किमी दूर चौखम्बा की तलहटी में,मन्दानी…

जनपद चमोली व रुद्रप्रयाग की सीमा पर तथा कुण्ड – चोपता – गोपेश्वर मोटर मार्ग पर मिनी स्वीजरलैण्ड के नाम से विख्यात खूबसूरत हिल स्टेशन चोपता से तीन किमी दूर पूरब दिशा में रावण व चन्द्र शिला के मध्य भगवान तुगनाथ का दिव्य व पावन तीर्थ है जिसे तृतीय केदार के नाम से जाना जाता है! ऊखीमठ से लक्ष्मण सिंह नेगी की खास रिपोर्ट

  ऊखीमठ! जनपद चमोली व रुद्रप्रयाग की सीमा पर तथा कुण्ड – चोपता – गोपेश्वर मोटर…

जानिये पर्वतराज हिमालय को किन किन नामो से जाना व सुशोभित किया जाता है। ऊखीमठ से लक्ष्मण सिंह नेगी की खास रिपोर्ट

ऊखीमठ! भारतीय संस्कृति में पर्वतराज हिमालय को हिमवन्त,हिमवान्, नगराज, नगेश,नगपति,नगाधिपति, गिरिराज, जननी का हिम किरीट, भारत…