अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में मंगलवार को भारतरत्न बाबा साहेब डा. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर उनका भावपूर्ण स्मरण किया गया। इस अवसर पर निदेशक एम्स पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी की अगुवाई में फैकल्टी मेंबर्स व चिकित्सकों ने बाबा साहेब के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी

Spread the love

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में मंगलवार को भारतरत्न बाबा साहेब डा. भीमराव अंबेडकर की जयंती पर उनका भावपूर्ण स्मरण किया गया। इस अवसर पर निदेशक एम्स पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत जी की अगुवाई में फैकल्टी मेंबर्स व चिकित्सकों ने बाबा साहेब के चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि दी।

कार्यक्रम में विश्वव्यापी कोविड 19 वायरस के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग का खासा खयाल रखा गया और सभी ने पर्याप्त दूरी बनाकर बाबा साहेब की जयंती कार्यक्रम में हिस्सा लिया।
इस अवसर पर एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत जी ने जीवन में शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डाला और बताया कि बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर ने अपनी उच्च शिक्षा के बूते ही उस दौर में एक ऐसा मुकाम हासिल किया, जिससे उन्हें भारत के संविधान निर्माता के रूप में हमेशा याद किया जाएगा। निदेशक एम्स ने सभी से जीवन में शिक्षा पर सर्वाधिक जोर देने का आह्वान किया। जिससे हम अपने समाज व देश का भी उत्थान कर सकें। उन्होंने कहा कि हमें जीवन में हमेशा नई नई चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार रहना चाहिए।
एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत जी ने कहा कि कोविड19 के कारण देशभर में चल रहे लॉकडाउन की इस आपात स्थिति में हमें निहायत गरीब तबके के लोगों की सहायता के लिए आगे आने की आवश्यकता है। जिससे हम बाबा साहेब के गरीबों व वंचितों की सेवा के स्वप्न को साकार करने में सहभागी बन सकें।
इस अवसर पर डीन एकेडमिक प्रो. मनोज गुप्ता, डीन हॉस्पिटल अफेयर्स प्रो. उदय भास्कर मिश्रा,डीन नर्सिंग प्रो. सुरेश के. शर्मा, प्रो. सौरभ वार्ष्णेय, वित्त सलाहकार कमांडेंट पी. के. मिश्रा, डा.मधुर उनियाल,अधीक्षण अभियंता अनुराग सिंह आदि मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.