UK TOP 10 नामक न्यूज़ पोर्टल द्वारा सोशल मीडिया (फेसबुक वॉल) के माध्यम से स्वास्थ्य सेवा हेतु राज्य में नियुक्त किए गए नोडल अधिकारी व अन्य विभागीय उच्च अधिकारियों को लेकर झूठी और भ्रांति पूर्ण सूचना प्रसारित करने पर केस दर्ज

Spread the love

* रायपुर, देहरादून*

वादी डॉ0 पंकज सिंह, राज्य नोडल अधिकारी, आई0डी0एस0पी0, स्वास्थ्य सेवा महानिदेशालय, उत्तराखंड द्वारा थाना रायपुर में लिखित तहरीर दी गई थी कि दिनांक 02/04/20 को UK TOP 10 नामक न्यूज़ पोर्टल द्वारा सोशल मीडिया (फेसबुक वॉल) के माध्यम से स्वास्थ्य सेवा हेतु राज्य में नियुक्त किए गए नोडल अधिकारी व अन्य विभागीय उच्च अधिकारियों को लेकर झूठी और भ्रांति पूर्ण सूचना प्रसारित की गई थी, जिसमें उनके द्वारा उक्त अधिकारियों के विदेश व देश के विभिन्न स्थानों से वापस आने के उपरांत बिना किसी मेडिकल टेस्ट के स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़ने संबंधी झूठी खबरें प्रसारित की गई थी। उक्त अधिकारियों को राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 के नियंत्रण हेतु तैनात किया गया है तथा पोर्टल द्वारा प्रसारित उक्त भ्रामक खबर से आमजनमानस में कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर व्याप्त आशंका व भय के बीच स्वास्थ्य विभाग की छवि धूमिल हुई है तथा कोविड-19 के नियंत्रण हेतु राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों पर भी नकारात्मक प्रभाव पड़ा है, इसके अतिरिक्त उक्त न्यूज़ पोर्टल UK TOP 10 द्वारा सोशल मीडिया के माध्यम से प्रसारित उक्त भ्रामक खबर से कोविड-19 के नियंत्रण में पूरी निष्ठा के साथ लगे हुए अधिकारियों की व्यक्तिगत एवं सामाजिक प्रतिष्ठा को भी क्षति पहुंचाई गई, जिससे स्वास्थ्य सेवाओं में लगे उक्त अधिकारियों के मनोबल में नकारात्मक प्रभाव पड़ा है। राज्य नोडल अधिकारी द्वारा दी गई उक्त लिखित शिकायत का संज्ञान लेते हुए पुलिस उपमहानिरीक्षक/ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा थानाध्यक्ष रायपुर को तत्काल संबंधित धाराओं में अभियोग पंजीकृत करने हेतु आदेशित किया गया, साथ ही वर्तमान में कोरोना वायरस के संक्रमण से आम जनमानस की सुरक्षा हेतु पूरी तन्मयता के साथ उनकी सेवा में लगे अधिकारियों/कर्मचारिगणों के विरुद्ध इस तरह की भ्रामक खबरें प्रसारित/ प्रचारित कर आम जनमानस में भय का माहौल व्याप्त करने वाले व्यक्तियों के विरुद्ध तत्काल कठोर वैधानिक कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। जिस पर थाना रायपुर पर न्यूज़ पोर्टल यूके टॉप 10 के विरुद्ध सोशल मीडिया के माध्यम से भ्रामक खबरें प्रसारित कर लोगों में भय का माहौल बनाने पर डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट, आईटी एक्ट तथा भारतीय दंड विधान की विभिन्न धाराओं में अभियोग पंजीकृत किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.