जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है कि कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं प्रसार पर नियंत्रण के दृष्टिगत लागू लाॅक डाउन की अवधि में कार्यालयों, कार्यशालाओं, कारखानों एवं प्रतिष्ठानों को भारत सरकार की मानक संचालन प्रक्रिया एवं लाॅक डाउन उपायों के रूप में  सामाजिक दूरी अनिवार्य रूप से  सुनिश्चित करवाने पर ही अनुमति प्रदान की गयी है

Spread the love

देहरादून दिनांक 23 अप्रैल 2020 जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है कि कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम एवं प्रसार पर नियंत्रण के दृष्टिगत लागू लाॅक डाउन की अवधि में कार्यालयों, कार्यशालाओं, कारखानों एवं प्रतिष्ठानों को भारत सरकार की मानक संचालन प्रक्रिया एवं लाॅक डाउन उपायों के रूप में  सामाजिक दूरी अनिवार्य रूप से  सुनिश्चित करवाने पर ही अनुमति प्रदान की गयी है। इसके अतिरिक्त विद्यार्थियों के लिए शैक्षणिक पुस्तकों की दुकानें तथा बिजली पंखे की दुकानों को नगर निगम क्षेत्र देहरादून एवं नगर पालिका परिषद क्षेत्र डोईवाला में दुकान खोलकर सामग्री विक्रय  करने की अनुमति नही होगी, इन दोनों क्षेत्रों में पूर्व में जारी दिशा-निर्देशों एवं मानकों का पालन करने पर केवल होम डिलिवरी के माध्यम से ही उक्त सामग्री विक्रय की जा सकती है। उक्त क्षेत्रों को छोड़कर अन्य क्षेत्रों में यह दुकानें निर्धारित समय प्रातः 07 बजे से 01 बजे तक सामाजिक दूरी के मानकों का पालन करते हुए खोल सकते हैं किन्तु इसके लिए नगर मजिस्टेªट/सम्बन्धित उप जिलाधिकारी से पूर्व में अनुमति प्राप्त करना अनिवार्य होगा। इसके अतिरिक्त केन्द्र और राज्य सरकार की निर्माणाधीन परियोजनाओं को स्वीकृति दी गयी है, किन्तु इस कार्य में लगे श्रमिकों को निर्णाधीन क्षेत्र में ही रहना होगा एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने की अनुमति नही होगी तथा स्वःनियोजित व्यक्तियों द्वारा प्रदान की गई सेवाएं जैसे इलैक्ट्रीशियन, कम्प्यूटर एवं सम्बन्धित उपकरणों की मरम्मत, प्लम्बर मोटर/बाईक मकैनिक बढई को निर्धारित समय प्रातः 07 बजे से 01 बजे तक केवल सम्बन्धित क्षेत्र (लाॅक डाउन क्षेत्र भगत सिंह कालोनी, कारगी ग्रान्ट, मुस्लिम कालोनी,  आजाद कालोनी तथा झबरावाला, केशवपुरीबस्ती को छोड़कर) में कार्य करने की अनुमति होगी किन्तु इसके लिए  पूर्व में सम्बन्धित क्षेत्र के थानाध्यक्ष/चैकी प्रभारी से अनुमति प्राप्त करना अनिवार्य होगा।
प्रधानमंत्री जनधन खाताधारकों द्वारा जनपद में विभिन्न बैंकों से 2623 लाभार्थियों द्वारा अपने जनधन खाते से धनराशि की निकासी की गयी। आज मोबाईल एटीएम वैन लक्खीबाग में में जनसुविधा हेतु उपलब्ध रही तथा 24 अपै्रल 2020 को मोबाईल एटीएम वैन कारगीग्रान्ट में जनसुविधा हेतु उपलब्ध रहेगी। ‘‘दून हैप्पी मील्स’’ में ई-नेट साॅल्यूशन्स ट्रांस्पोर्टनगर द्वारा 240 पेयजल बोतल तथा अनमोल अग्रवाल शिमला बाईपास द्वारा 20 अन्नपूर्णा किट उपलब्ध कराई गयी। लाॅक डाउन अवधि के दौरान विभिन्न सामाजिक संगठनों एवं संस्थाओं द्वारा भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण के दृष्टिगत जिला आपदा परिचालन केन्द्र देहरादून में जन सहायता हेतु स्थापित कन्ट्रोलरूम में कुल 33 काॅल प्राप्त हुई हैं, जिसमें, ई-पास हेतु 3, भोजन की 1, राशन हेतु 23 एवं मेडिकल सहायता हेतु 4 तथा विविध 2 काॅल प्राप्त हुई। जनपद में आज विभिन्न उद्योग गतिविधियों  हेतु 16 औद्योगिक प्रतिष्ठानों, 1 चूना भट्टा संचालक तथा विभिन्न औद्योगिक इकाईयों के कुल 718 कार्मिकों को पास निर्गत किये गये हैं। इसी प्रकार जनपद में शैक्षणिक पुस्तकों की दुकानें को पुस्तकों की होमडिलिवरी हेतु कुल 22 पास निर्गत किये गये।  आज जनपद में मनरेगा के अन्तर्गत 76 निर्माण कार्य प्रारम्भ किये गये, जिनमें राहत शिविरों में ठहराये गये  श्रमिकों में से 632 श्रमिकों उक्त कार्य में योजित कर रोजगार उपलब्ध कराया गया।
जिला प्रशासन की टीम द्वारा स्वयं सेवी संस्थाओं के सहयोग से जनपद अन्तर्गत विकासखण्ड चकराता, विकासनगर, सहसपुर, रायपुर व डोईवाला में कुल 2287 निराश्रित पशुओं जिसमें 1684 श्वान, 559 गौवंश एवं 44 अन्य पशुओं को चारा व पशु आहार उपलब्ध कराया गया। द दून स्कूल देहरादून द्वारा जिला प्रशासन को 500 पीपीई किट उपलब्ध कराई गयी। जिला प्रशासन की टीम द्वारा विभिन्न सामाजिक संस्थाओं एवं व्यक्तियों के सहयोग से जनपद के विभिन्न स्थानों पर 3553 अन्नपूर्णा राशन किट वितरित की गयी थाना राजपुर में 400, थाना कैन्ट में 164, थाना क्लेमेन्टाउन में 150, तहसील सदर में 87, तहसील मसूरी में 100, थाना नेहरू कालोनी में 778, थाना रायपुर में 349, थाना पटेलनगर में 600, तहसील डोईवाला में 300, थाना प्रेमनगर में 225, कोतवाली दून में 400 अन्नपूर्णा किट वितरित किये गये।
जनपद के देहरादून सदर, में 10 सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों के माध्यम से प्रति पैकेट रू0 50 की दर से 500 पैकेट विक्रय किया गया। इसी क्रम में जनपद के  विभिन्न चयनित स्थानों पर प्रशासन द्वारा अधिकृत 18 मोबाईल वैन के माध्यम से सस्ते दरों पर 92.50 क्विंटल फल-सब्जियों का विक्रय किया गया। जिला प्रशासन द्वारा भगत सिंह कालोनी में राशन एवं आवश्यक सामग्री की आपूर्ति की गयी इसके अलावा जिला पूर्ति विभाग द्वारा भगत सिहं कोलोनी में 24, लक्खीबाग में 11, कारगीग्रान्ट में 10, तथा आजाद कालोनी में 30 गैस सिलेण्डर वितरित किये गये। प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत भगत सिंह कालोनी में 662, लक्खीबाग क्षेत्र में 625 एवं कारगीग्रान्ट में 778 उपभोक्ताओं को खाद्यान उपलब्ध कराया गया। भगत सिंह कालोनी में 1 तथा आजाद कालोनी 2 मोबाईल वैन के माध्यम से फल एवं सब्जियां वितरित की गयी। दुग्ध विकास विभाग द्वारा भगत सिंह कालोनी, लक्खीबाग, कारगीग्रान्ट एवं आजाद कालोनी में 1025 ली0 दूध विक्रय किया गया।
जिलाधिकारी ने अवगत कराया है कि आज विभिन्न स्वंयसेवी संस्थाओं ने जिला प्रशासन को सहयोग प्रदान करते हुए भोजन पैकेट उपलब्ध कराये, जिसमें मुख्यतः राधास्वामी सत्संग व्यास, गीता भवन, लोकायुक्त कार्यालय देहरादून,  गुरूद्वारा श्री गुरू अंगद देव जी कांवली रोड, पृथ्वीनाथ महादेव मंदिर समिति झण्डाबाजार, दून यूनिवर्सिटी, केतन आनन्द, रोशनी जन सेवा संस्थान डी.एल रोड चैक देहरादून, महिला सशक्तीकरण एवं बाल विकास परियोजना कार्यालय देहरादून, सत्य सांई सेवा संस्थान, ई-नेट सोल्यूशन ट्रांस्पोर्टनगर देहरादून, शिल्पा प्रोडक्शन, वेस्ट वारियर्स संस्था, श्याम सिंह गोयल, अग्रवाल चैरिटेबल ट्रस्ट, ग्लोबल गाॅडमदर फाउंडेशन राजपुर रोड, द्वारा भोजन के पैकेट उपलब्ध कराये गये। जनपद सदर क्षेत्रान्तर्गत कुल 5555  व्यक्तियों को  भोजन के पैकेट वितरित किये गये जिनमें, 2 वरिष्ठ नागरिक एवं 40 विद्यार्थी, दीपनगर में 1000, चकशाहनगर में 800, थाना पटेलनगर 800, इन्दिरा नगर चैकी में 200,  धारा चैकी में 550, चन्द्रबनी में 150, चैयला में 100, गौतमकुण्ड में 80, ट्रांस्पोर्टनगर में 250, पटेलनगर चैकी में 300, कारगी चैक काली मन्दिर में 135, बंजारावाला में 110, नवादा में 40, गोविन्दगढ में 70, कौलागढ में 02, आईएसबीटी चैकी में 200, नत्थनपुर में 200, नगर निगम में 250, कांवली बस्ती में 100, बाईपास चैकी में 150, चमन विहार में 26  व्यक्तियों को भोजन के पैकेट वितरित किये गये।
लाॅक डाउन अवधि में सिविल सोसायटी व शासकीय विभागों द्वारा किये गये उत्कृष्ट कार्यों  के दृष्टिगत आज के कोरोना वाॅरियर-
कोरोना वाॅरियर (सिविल सोसायटी से)
श्रीमती शैला बृजनाथ
अध्यक्ष, आसरा ट्रस्ट देहरादून ,
लाॅक डाउन अवधि में 07 वाहनों के माध्यम से जनपद के विभिन्न स्थानों पर निराश्रित व्यक्तियों को खाद्य सामग्री  के पैकेट उपलब्ध करवाकर जिला प्रशासन को सहयोग प्रदान कर रहे हैं।

आज के कोरोना वाॅरियर (शासकीय विभाग से)
श्रीमती शरणावती
सफाई नायक, दून मेडिकल कालेज देहरादून
दून मेडिकल कालेज में बनाये गये कोरोना वार्ड में स्वच्छता कार्यों का सम्पादन कर रही हैं।
—-0—-
देहरादून दिनांक 23  अप्रैल 2020 जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुपालन में कोरोना वायरस संक्रमण के संदिग्ध व्यक्तियों हेतु दैनिक सर्विलांस के आधार पर शिक्षकों, आशा कार्यकर्तियों  एवं आंगनबाड़ी कार्यकर्तियों द्वारा अब तक कुल 385226 व्यक्तियों की सामुदायिक निगरानी का कार्य किया गया तथा उक्त व्यक्तियों में से पुनः आज 112198 व्यक्तियों की  सामुदायिक निगरानी ( Community Surveillance ) का कार्य किया गया। इसी क्रम में आज 43 टीमों द्वारा दूरभाष के माध्यम से 264 व्यक्तियों से सम्पर्क कर सामुदायिक निगरानी का कार्य किया गया। आज सामुदायिक निगरानी टीम द्वारा सम्पर्क किये जाने पर जनपद में कुल 01 व्यक्ति को खांसी,जुकाम आदि के लक्षण पाये जाने पर मेडिकल टीम को सन्दर्भित कर दिया गया है। आज कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत संदिग्ध 65 व्यक्तियों के सैंपल जांच हेतु भेजे गये हैं तथा 40 सैम्पल प्राप्त हुए जिनमें एक व्यक्ति की सैम्पल रिपोर्ट पाजिटिव आने के फलस्वरूप जनपद में कोरोना पाजिटिव की संख्या 25 हो गयी है, जिनमें 12 व्यक्ति स्वस्थ हो गये हैं तथा वर्तमान में 13 व्यक्ति उपचाररत् हैं।
कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत दिहाड़ी/मजदूरी करने आये 25 श्रमिकों जिन्हे डाल्फिन(साहिल हाॅस्टल) नंदा की चैकी प्रेमनगर में बनाये गये राहत शिविर में ठहराया गया है, की साईकेट्रिक सपोर्ट टीम द्वारा कांउसिलिंग की गयी। आज कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम हेतु नियुक्त विभिन्न कार्मिकों को संक्रमण से सुरक्षा के दृष्टिगत 96 एन-95 मास्क, 3650 ट्रिपल लेयर मास्क, 24 पी.पी.ई किट, 20 वी.टी.एम वाईल तथा 105 सेनिटाइजर उपलब्ध कराये गये।
कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 की रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु समस्त मेडिकल स्टोर पर बिना चिकित्सक के परामर्श की पर्ची के सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयों का विक्रय प्रतिबन्धित किये जाने के उपरान्त समस्त मेडिकल स्टोर स्वामियों द्वारा जनपद में कुल 131 व्यक्तियों को चिकित्सकीय पर्ची के आधार पर सर्दी, खांसी व जुकाम की दवाईयां विक्रय की गयी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.