मुख्यमंत्री आवास परिसर में मौन बॉक्स से 1 माह में 20 किलोग्राम शहद का उत्पादन किया गया।

Spread the love

मुख्यमंत्री आवास परिसर में मौन बॉक्स से 1 माह में 20 किलोग्राम शहद का उत्पादन किया गया।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों में लोगों की आर्थिकी बढ़ाने के लिए मौन पालन के लिए कार्य योजना बनाई जाए। जिलावार कलस्टर बनाकर मौन पालन को बढ़ावा दिया जाए। ग्रामीण क्षेत्रों में कृषि के साथ मौन पालन किसानों की आर्थिकी को सुधारने में कारगर होगा।  उन्होंने कहा किसानों के छोटे-छोटे समूह बनाकर उन्हें मौन बॉक्स उपलब्ध कराए जाएं।
मुख्यमंत्री ने मुख्य उद्यान अधिकारी डॉ मीनाक्षी जोशी से देहरादून में शहद की उत्पादकता की जानकारी ली, उन्होंने कहा रॉ हनी के उत्पादन पर भी जोर दिया जाए।
इस अवसर पर उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, श्रम एवं संविदा सलाहकार बोर्ड के अध्यक्ष श्री शमशेर सिंह सत्याल, मुख्यमंत्री आवास परिसर के उद्यान प्रभारी श्री दीपक पुरोहित आदि उपस्थित थे।

One thought on “मुख्यमंत्री आवास परिसर में मौन बॉक्स से 1 माह में 20 किलोग्राम शहद का उत्पादन किया गया।

  1. मौन पालन के लिए नजदीक में पुष्प होने जरूरी हैं। पुष्पों के लिए खेती बाड़ी और फलोद्यान जरूरी है। खेती और फलोद्यान तब तक सफल नहीं हो सकता जब तक बंदरों के महा आतंक है। इसलिए सबसे पहले बंदरों के लिए कार्य योजना बनाया जाना आवश्यक है। ऊपरी स्तर से काम नहीं होते उसके लिए सूक्ष्म से सूक्ष्म चीजों पर ध्यान देना आवश्यक है। बंदरों द्वारा सब्जी की खेती उज्याडी देने पर मैन किसानों को रोते हुए देखा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.