*घाट रोड पर महिला द्वारा दिया गया प्रीमेच्योर 7 माह की बालिका को जन्म, ऋषिकेश पुलिस द्वारा तत्काल प्रसूता को सरकारी अस्पताल पहुंचा कर बचाई गई जान*

Spread the love

ऋषिकेश, देहरादून*
********************
*घाट रोड पर महिला द्वारा दिया गया प्रीमेच्योर 7 माह की बालिका को जन्म, ऋषिकेश पुलिस द्वारा तत्काल प्रसूता को सरकारी अस्पताल पहुंचा कर बचाई गई जान*
********************
आज दिनांक 23 जनवरी 2020 की सायं लगभग 9:40 पर *चौकी प्रभारी त्रिवेणी घाट हमराह कर्मचारी गणों के साथ गश्त पर थे, कि घाट रोड पर एक महिला के द्वारा सड़क पर एक बालिका को जन्म दिया गया था। जिस पर तत्काल उनके द्वारा उक्त सूचना प्रभारी निरीक्षक ऋषिकेश को दी गई जिस पर कोतवाली ऋषिकेश से प्रभारी निरीक्षक तत्काल महिला कांस्टेबल व हमराह कर्मचारी गणों के साथ घाट रोड पर पहुंचे, जहां पर महिला कांस्टेबल व हमराह कर्मचारी गणों की सहायता से प्रसूता को जन्मी हुई बालिका के साथ राजकीय चिकित्सालय पहुंचाया गया, जहां पर महिला डॉक्टर के द्वारा तत्काल चिकित्सीय जांच की गई। जिनके द्वारा जानकारी दी गई कि उक्त जन्मी बालिका की मृत्यु हो गई है तथा वह बालिका प्रीमेच्योर है और लगभग 7 माह की है।*
महिला चिकित्सक के द्वारा बताया गया कि यदि तत्काल इन्हें अस्पताल नहीं लाया जाता तो इनके शरीर में जहर फैलने की संभावना थी। उक्त महिला के साथ मौके पर उनका पति व 7 साल का एक बालक भी था। मौके पर उपस्थित आम जनता के लोगों द्वारा पुलिस के तत्काल मौके पर पहुंचकर उक्त महिला की जान बचाने पर ऋषिकेश पुलिस के इस कार्य की प्रशंसा की है।
——————
*गर्भवती महिला का नाम पता*
******************** *श्रीमती ज्योति उम्र लगभग 25 वर्ष*
(त्रिवेणी घाट परिसर में मांगने का कार्य करती है। जोकि नगीना की निवासी है।)
—————–
*पति का नाम पता*
*****************
*अरविंद कुमार पुत्र स्वर्गीय नवल किशोर निवासी त्रिवेणी घाट रेन बसेरा ऋषिकेश*
उम्र 36 वर्ष
मूल निवासी- *ग्राम महागामा थाना महागामा जिला गोंडा झारखंड*
——————
उक्त व्यक्ति से पूछताछ पर जानकारी प्राप्त हुई कि यह लोग ऋषिकेश त्रिवेणी घाट परिसर में मांगने का कार्य करते हैं तथा त्रिवेणी घाट परिसर में बने रैन बसेरा में निवास करते हैं। प्रसूता की हालत अब ठीक है तथा महिला चिकित्सकों के द्वारा उसकी जांच की जा रही है। मौके पर महिला कांस्टेबल मौजूद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.