पुलिस का ये चेहरा भी देख लीजिये मुशीबत की घड़ी में पुलिस कैसे मजबूर लोगो की मदद करती है।

Spread the love

 

 

*जरूरतमंद लोगों तक पुलिस टीम द्वारा घर- घर पहुंचायी गयी खाद्य सामग्री*

वर्तमान समय में संपूर्ण विश्व व भारतवर्ष में फैल रहे कोरोना वायरस के संक्रमण व इस संबंध में माननीय प्रधानमंत्री भारत सरकार द्वारा सम्पूर्ण भारतवर्ष में किये गए लॉक डाउन के दृष्टिगत जनपद पुलिस द्वारा जरूरतमंद लोगों तक, जिनके द्वारा दैनिक मजदूरी कर अपना भरण-पोषण किया जाता था तथा वर्तमान समय में जिन्हें दैनिक आवश्यकता की वस्तुएं जुटाने में कठिनाई उत्पन्न हो रही है, को उनके द्वारा संपर्क करने पर उनके घर घर जाकर दैनिक आवश्यकता का सामान(सब्जी,फल आदि) मुहैया कराने हेतु मोर्चा संभाला गया तथा पटेलनगर पुलिस टीम द्वारा उन्हें अपने प्रयासों/संसाधनों से दैनिक आवश्यकता की वस्तुएं उपलब्ध कराई गई, जिस पर उन लोगों द्वारा पुलिस टीम की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए उनका आभार प्रकट किया गया।

*भारत बंद के दौरान राजपुर पुलिस द्वारा एक कदम बढ़कर जरूरतमंदों की मदद की गई।*
1-राजपुर पुलिस को फ़ोन द्वारा श्री रमेश सिंह नि0 व्योम प्रस्थ जी0एम0एस0 रॉड देहरादून द्वारा बताया कि वह 85 वर्ष के बुजुर्ग है, और वर्तमान में अकेले रहते हैं, भारत बंद होने के कारण कही जाने में असमर्थ है, और उनका इलाज max हॉस्पिटल से चल रहा है, एक दवाई की बहुत जरूरत है, इस पर मैक्स हॉस्पिटल से संपर्क कर पुलिस द्वारा तुरंत दवाइया भिजवाई गयी जिसका बुजुर्ग द्वारा बहुत आभार व्यक्त किया गया।
2- फ़ोन के मध्यम से एक व्यक्ति अरुण सिंह नि0 किशनपुर द्वारा बताया कि उसका गैस सिलिंडर खत्म हो गया है और पूरा परिवार ने खाना नही खाया है, इस पर गैस एजेंसी कैनाल रोड से पुलिस द्वारा उनको गैस डिलीवरी दी गयी। जिस पर उस व्यक्ति द्वारा पुलिस का आभार व्यक्त किया गया।
3- फ़ोन द्वारा सूचना मिली कि एक व्यक्ति को सहस्रधारा में हार्ट अटैक पड़ा है, 108 को कॉल करने के बाद भी काफी देर से एम्बुलेंस नही पहुची है, इस पर राजपुर पुलिस द्वारा त्वरित कार्यवाही करते हुए एक गाड़ी के माध्यम से मैक्स हॉस्पिटल एडमिट कराया गया, अब उसकी तबियत ठीक है।


4- सहस्रधारा एक व्यक्ति द्वारा फ़ोन के माध्यम से बताया कि करीब 600 मजदूर करीब 200 परिवार जो नदी में पत्थर तोड़ने में काम कर रहे थे, काम बंद होने के कारण राशन नही खरीद पा रहे है, इस पर राजपुर पुलिस द्वारा सहस्रधारा स्थित आश्रम से बात की गई तो उन्होंने इन लोगो के खाने की व्यवस्था हेतु आगे बढ़कर प्रस्ताव रखा जिसपर इन सबके खाने की व्यवस्था हेतु थाना छेत्र के प्रेरणा जनरल स्टोर से मांग के अनुसार पुलिस द्वारा राशन उपलब्ध कराया गया। और सभी का खाना आश्रम में तैयार करवाकर वायरस ट्रांसमिशन को देखते हुए, पैकेट्स के माध्यम से सभी को अलग अलग वितरित कराया गया। एवम अगले 20 दिन के लिए परिवार बार राशन के पैकेट्स तैयार करवाकर बो भी वितरित किये गए। सह ही मास्क व सैनिटाइजर भी वितरित किये गए, तथा इनको माइक के माध्यम से वायरस को फैलने से रोकने के लिए संभावित उपाय भी विस्तृत रूप से बताए गए।
*राजपुर पुलिस लगातार प्राप्त हो रही जरूरतमंदों की एक कदम आगे बढ़ाकर संभावित मदद को अग्रसर है।*

Leave a Reply

Your email address will not be published.