कोरोनादेहरादूनस्वास्थ्य

कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत संक्रमित चिन्हित व्यक्तियों के चिकित्सक पर्यवेक्षण में क्वारेन्टाइन हेतु जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्वत द्वारा निर्देश पर कुछ भवनअधिग्रहित किये गए।

देहरादून दिनांक 10 अप्रैल 2020  कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमण के दृष्टिगत संक्रमित चिन्हित व्यक्तियों के चिकित्सक पर्यवेक्षण में क्वारेन्टाइन हेतु  Uttarakhand Epidemic Diseases, Covid-19 Regulation, 2020 Epidemic Diseases Act 1897  में वर्णित प्राविधानों के अन्तर्गत जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्वत द्वारा जनपद अवस्थित ब्लैसिंग होम कण्डोली, एवलोन रायल कण्डोली, आशियानाग्रान्ट कण्डोली एवं एन.एस.टी.आई देहरादून को अधिग्रहण करने के आदेश दिये हैं। जिलाधिकारी के निर्देशों के अनुपालन में मुख्य विकास अधिकारी देहरादून द्वारा विभिन्न कार्यदायी संस्था लोक निर्माण, विभाग, जल संस्थान, जल निगम, लघु सिंचाई, सिंचाई खण्ड, नलकूप, राष्ट्रीय राजमार्ग, एडीबी, पी.एम.जी.एस.वाई, एवं ग्रामीण निर्माण विभाग के अधिशासी अभियन्ताओं को उनके विभाग के सभी खण्डों से सम्बन्धित ठेकेदारों  के माध्यम से निर्माण कार्य करवाये जा रहे हैं, के मजदूर/श्रमिक जो वर्तमान में लाॅक डाउन के कारण किसी सेल्टर, निर्माण स्थल या किसी बस्ती/मौहल्ले में निवास कर रहे हों के सम्बन्ध में तत्काल सूचना निर्धारित प्रारूप पर उपलब्ध करवाने के निर्देश दिये गये हैं।
इसी क्रम में कोरोना वायरस कोविड-19 संक्रमित मरीजों के उपचार में लगे स्वास्थ्य कर्मियों हेतु जमुना बजाज ग्राम विकास संस्था(जे.बी.जी.बी.एस) पुणे महाराष्ट्र के सहयोग से तैयार पीपीई किट एन-95 अथवा एफएफपी-2 मास्क सहित जनपद टिहरी हेतु 300, उत्तरकाशी हेतु 200, पौड़ी हेतु 500, रूद्रप्रयाग हेतु 200 एवं चमोली हेतु 200 किट दो वाहनों के माध्यम से जिला आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण देहरादून द्वारा प्रेषित की गयी हैं। जनपद देहरादून के लिए उक्त संस्था द्वारा 750 पीपीई किट उपलब्ध कराई गयी है।
जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव  ने अवगत कराया है कि आज विभिन्न स्वंयसेवी संस्थाओं ने जिला प्रशासन को सहयोग प्रदान करते हुए भोजन पैकेट उपलब्ध कराये, जिसमें मुख्यतः राधास्वामी सत्संग व्यास, गीता भवन, लोकायुक्त कार्यालय देहरादून, अग्रवाल चेरिटेबल ट्रस्ट, गुरूद्वारा श्री गुरू अंगद देव जी कांवली रोड, पृथ्वीनाथ महादेव मंदिर झण्डाबाजार, एल्थम बैकरी, दून यूनिवर्सिटी, ई-नेट सोल्यूशन ट्रांस्पोर्टनगर, गोयल स्वीटशाॅप, वेलनेस कैटर्स, सिद्धार्थ एजुकेशनल गु्रप, होटल साॅलिटियर, दून फ्री फूड, केतन आनन्द, राजकुमार जिंदल नेहरू कालोनी, शिल्पा प्रोडक्शन सुभाषनगर द्वारा भोजन के पैकेट उपलब्ध कराये गये। जनपद में कुल 6395  भोजन पैकेट वितरित किये गये, जिनमें 2 वरिष्ठ नागरिक एवं 25 विद्यार्थी, चकशाह नगर में 1100, दीपनगर में 800, चन्द्रबनी में 190, चोयला में 180, ओगल भट्टा में 140, ट्रांस्पोर्ट नगर में 200, आरकेडिया में 110, गौतमकुण्ड में 190, इंजीनियर इन्कलेव में 100, पटेलनगर चैकी में 100, पटेलनगर थाने में 200, निकट अंजली डेयरी जाखन में 10, हैप्पी एन्कलेव में 160, चन्दर नगर में 150, कारगी चैक में 225, नवादा में 20, दौड़वाला में 10, किद्दूवाला में 40, काली मन्दिर कारगी में 125, बंजारावाला में 140, आईएसबीटी चैकी में 100, जी.एम.एस रोड में 128, पटेलनगर में 100, नगर निगम में 150, मच्छीबाजार में 160, चैकी इन्दिरा नगर में 300, ब्रहा्रम्पुरी में 130, छ नम्बर पुलिया में 80, बालावाला में 300, नन्दा की चैकी में 350, गोविन्दगढ में 110, प्रकाशनगर में 180, ईदगाह में 90 व्यक्तियों को भोजन के पैकैट तथा सुद्धोवाला में 50 ली0 पेयजल उपलब्ध कराया गया। इसके साथ ही जिला प्रशासन देहरादून को आॅनलाईन ‘‘दून हैप्पी मील्स’’ के द्वारा सहयोग प्रदान करते हुए श्रीमती सुषमा सिंह पटेलनगर द्वारा 5 किट उपलब्ध कराये गये। ‘‘दून हैप्पी मील्स’’ में 5 अन्नपूर्णा किट प्राप्त हुए।
जिलाधिकारी के निर्देशों के अनुपालन में आज जिला प्रशासन की टीम द्वारा विभिन्न सामाजिक संस्थाओं एवं व्यक्तियों के सहयोग से जनपद के विभिन्न स्थानों पर 1177 अन्नपूर्णा राशन किट वितरित की गयी, देहरादून सदर में 324, तहसील ऋषिकेश में 350, थाना रायवाला में 253, थाना वंसत विहार में 100, थाना प्रेमनगर में 100 , थाना कैन्ट में 50 अन्नपूर्णा किट वितरित किये गये। इसी क्रम में 526 सैनिटाइजर भी विभिन्न क्षेत्रों में वितरित किये गये हैं।
जिलाधिकारी के निर्देशानुसार पूर्ति विभाग द्वारा मूल्य नियंत्रण एवं सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) बनाये रखने हेतु आलू एवं प्याज के पैकट ( 2 किलो आलू एवं 1/2 किलो प्याज) तैयार किये गये, जिनको आज जनपद के मिंयावाला में 10 एवं विकासनगर में 10 सरकारी सस्ते गल्ले की दुकानों के माध्यम  से प्रति पैकेट रू0 50 की दर से 920 पैकेट विक्रय किया गया। इसी क्रम में जनपद के  विभिन्न चयनित स्थानों यथा दीपनगर, खुड़बुड़ा, नालापानी चैक, बिन्दाल पुल, लक्खीबाग, रिस्पना, चन्दरनगर, गोविन्दगढ, डालनवाला, रेसकोर्स, अपर सारथी विहार, जाखन, इन्दर रोड, मोहनी रोड़, रिंग रोड एवं सरस्वती विहार आदि क्षेत्रों में प्रशासन द्वारा अधिकृत मोबाईल वैन के माध्यम से सस्ते दरों पर 87.32 क्विंटल सब्जियों का विक्रय किया गया। इसी क्रम में कल 11 अपै्रल 2020 को प्रातः 07 बजे से अपरान्ह 01 बजे तक मोबाईल वैन के द्वारा मांग के अनुसार अन्य क्षेत्रों में भी 20 मोबाईल वैन के माध्यम से सस्ती दरों (मण्डी थोक दरों) पर सब्जी,  फल आदि का विक्रय किया जायेगा।
जिलाधिकारी के निर्देशों के अनुपालन में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी द्वारा स्वयं सेवी संस्थाओं के सहयोग से जनपद अन्तर्गत विकासखण्ड चकराता, विकासनगर, सहसपुर, रायपुर व डोईवाला में कुल 1288 निराश्रित पशुओं जिसमें 784 श्वान, 469 गौवंश एवं 35 अन्य पशुओं को चारा व पशु आहार उपलब्ध कराया गया।
कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण के दृष्टिगत जिला आपदा परिचालन केन्द्र देहरादून में जन सहायता हेतु स्थापित कन्ट्रोलरूम में कुल 14 काॅल प्राप्त हुई हैं, जिसमें, राशन हेतु 10, भोजन हेतु 1 एवं मेडिकल सहायता हेतु 3 काॅल प्राप्त हुई।
जिलाधिकारी के निर्देशों के क्रम में उप जिलाधिकारी सदर, जिला पूर्ति अधिकारी, सहायक निदेशक दुग्ध एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी की संयुक्त टीम द्वारा भगत सिंह कालोनी क्षेत्र आटा 120 किलो, चावल 20 किलों, रिफाईण्ड तेल 10 ली0, दाल 15 किलो, चीनी 25 किलो सहित  दैनिक उपयोग की अन्य आवश्यक वस्तुओं के साथ ही 6 मोबाईल वैन से 32.2 क्विंटल फल-सब्जी एवं 2 वाहन के माध्यम से 490 ली0 दूध उपलब्ध कराया गया। संयुक्त टीम द्वारा जनपद के विभिन्न स्थानों पर अनियमितता पाये जाने पर 10 व्यापारियों/दुकानों के चालान किये गये।
कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 की रोकथाम हेतु लाॅक डाउन अवधि के दौरान विभिन्न सामाजिक  संगठनों एवं संस्थाओं द्वारा भोजन उपलब्ध कराया जा रहा है। जिला खाद्य सुरक्षा विभाग की टीम द्वारा किये गये निरीक्षण के दौरान उपरोक्त संस्थाओं से सम्बन्धित व्यवस्थापकों को साफ-सफाई बनाये रखने, भोजन को बनाने व भण्डारण एवं पैकिंग के दौरान सामाजिक दूरी बनाये रखने सम्बन्धित जानकारी दी गयी।
इसी क्रम में भगत सिंह कालोनी एवं मुस्लिम कालोनी लक्खीबाग क्षेत्र में क्षेत्रवासियों द्वारा किये गये अनुरोध के क्रम में आज पंजाब नेशनल बैंक का मोबाईल एटीएम  जनमानस  हेतु उपलब्ध रहा।
कोरोना वायरस संक्रमण कोविड-19 की रोकथाम एवं अन्य व्यवस्थाओं के सम्पादन हेतु नियुक्त विभिन्न विभागों एवं संस्थानों के  आज कुल 140 कार्मिकों को उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डाॅ ए.के डिमरी एवं अधिशासी अभियंता जल संस्थान नमित रमोला द्वारा प्रशिक्षण प्रदान किया गया है, जिसमें जल संस्थान मुख्यालय के 40 कार्मिकों को तथा सिविल डिफेंस के 100 कार्मिक शामिल हैं।


जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने अवगत कराया है कि लाॅक डाउन अवधि में सिविल सोसायटी व शासकीय विभागों द्वारा किये गये उत्कृष्ट कार्यों  के दृष्टिगत प्रतिदिन उत्कृष्ट कार्य करने वाले एक-एक कोरोना वाॅरियर को चुना जायेगा। आज 10 अपै्रल 2020 के सिविल सोसायटी से कोरोना वाॅरियर डाॅ कालाचाॅद साॅईं,  निदेशक, वाडिया हिमालय भू-विज्ञान संस्थान देहरादून तथा शासकीय विभाग से कोरोना वाॅरियर, श्रीमती क्षमा बहुगुणा, बाल विकास परियोजना अधिकारी, (शहर) देहरादून को चुना गया है। जनपद निवासियों द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण से रोकथाम एवं बचाव हेतु किये जाने वाले राहत कार्यों के लिए मुख्यमंत्री राहत कोष में सहायता स्वरूप धनराशि दान दी जा रही है। जिलाधिकारी की पहल पर प्रतिदिन जनपद से मुख्यमंत्री राहतकोष में सर्वाधिक सहायता स्वरूप धनराशि जमा करने वाली संस्थाओं/व्यक्तियों को अगले कार्य दिवस पर अतिरिक्त रूप से कोरोना वाॅरियर चुना जायेगा।

आज के कोरोना वाॅरियर (सिविल सोसायटी से)
डाॅ0 कालाचाॅद साॅईं,
निदेशक, वाडिया हिमालय भू-विज्ञान संस्थान देहरादून।
जिला प्रशासन को 200  P.P.E किट तथा 200 परिवारों के लिए राशन किट उपलब्ध करवाकर सहयोग प्रदान किया।

आज के कोरोना वाॅरियर (शासकीय विभाग से)


श्रीमती क्षमा बहुगुणा
बाल विकास परियोजना अधिकारी,(शहर) देहरादून ।
लाॅक डाउन अवधि में आंगबाड़ी केन्द्रों से टेक होम राशन की घर-घर पर सुरक्षित डिलिवरी, सील किये गये क्षेत्रों की प्रभावी सामुदायिक निगरानी में निरन्तर सहभागिता तथा गर्भवती महिलाओं के सुरक्षित प्रसव के लिए प्रयास किये।

 

Rajnish Kukreti

About u.s kukreti uttarakhandkesari.in हमारा प्रयास देश दुनिया से ताजे समाचारों से अवगत करना एवं जन समस्याओं उनके मुद्दो , उनकी समस्याओं को सरकारों तक पहुॅचाने का माध्यम बनेगा।हम समस्त देशवासियों मे परस्पर प्रेम और सदभाव की भावना को बल पंहुचाने के लिए प्रयासरत रहेगें uttarakhandkesari उन खबरों की भर्त्सना करेगा जो समाज में मानव मानव मे भेद करते हों अथवा धार्मिक भेदभाव को बढाते हों।हमारा एक मात्र लक्ष्य वसुधैव कुटम्बकम् आर्थात समस्त विश्व एक परिवार की तरह है की भावना को बढाना है। हम लोग किसी भी प्रतिस्पर्धा में विस्वास नही रखते हम सत्यता के साथ ही खबर लाएंगे। हमारा प्रथम उद्देश्य उत्तराखंड के पलायन व विकास पर फ़ोकस रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *