Surya Nutan: इंडियन ऑयल ने लॉन्च किया सौर चूल्हा , अब खाना पकाना होगा बेहद सस्ता, जानिए इसकी खासियत

Spread the love

नई दिल्ली-:  भारत की प्रमुख तेल कंपनी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (IOC) ने बुधवार को घर के अंदर इस्तेमाल किया जाने वाला सौर चूल्हा पेश किया, जिसे रिचार्ज किया जा सकता है. सौर ऊर्जा से चलने वाले इस चूल्हे को रसोई घर में रखकर उपयोग में लाया जा सकता है.

इस चूल्हे को खरीदने की लागत के अलावा रखरखाव पर कोई खर्च नहीं है और इसे जीवाश्म ईंधन के विकल्प के रूप में देखा जा रहा है. पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने अपने आधिकारिक आवास पर एक कार्यक्रम की मेजबानी की, जहां इस चूल्हे पर पका खाना परोसा गया. इस चूल्हे को ‘सूर्य नूतन’ नाम दिया गया है.

 

https://twitter.com/PIB_India/status/1539587550897389569?t=6p_2_ZphzbJpvEo2t4JwXw&s=19

 

आईओसी के निदेशक (आरएंडडी) एस एस वी रामकुमार ने कहा कि यह चूल्हा सौर कुकर से अलग है, क्योंकि इसे धूप में नहीं रखना पड़ता है. सूर्य नूतन को फरीदाबाद में आईओसी के अनुसंधान और विकास विभाग ने विकसित किया है, जो छत पर रखे पीवी पैनल के जरिए प्राप्त सौर ऊर्जा से चलता है.

इस चूल्हे को खरीदने की लागत के अलावा रखरखाव पर कोई खर्च नहीं है और इसे जीवाश्म ईंधन के विकल्प के रूप में देखा जा रहा है. पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने अपने आधिकारिक आवास पर एक कार्यक्रम की मेजबानी की, जहां इस चूल्हे पर पका खाना परोसा गया. इस चूल्हे को ‘सूर्य नूतन’ नाम दिया गया है.

 

आईओसी के निदेशक (आरएंडडी) एस एस वी रामकुमार ने कहा कि यह चूल्हा सौर कुकर से अलग है, क्योंकि इसे धूप में नहीं रखना पड़ता है. सूर्य नूतन को फरीदाबाद में आईओसी के अनुसंधान और विकास विभाग ने विकसित किया है, जो छत पर रखे पीवी पैनल के जरिए प्राप्त सौर ऊर्जा से चलता है.
इस सूर्य नूतन चूल्हे से चार लोगों वाले परिवार के लिए तीन टाइम का खाना आसानी से बनाया जा सकता है. इसे सिर्फ एक बार रीचार्ज करना होगा और ये आसानी से आपका रसोई गैस का खर्च बेहद कम कर सकता है. चूंकि ये जीवाश्म ईंधन यानी फॉसिल फ्यूल से चलेगा तो इसे चलाने के लिए ना तो ईंधन की जरूरत है और ना ही लकड़ी की. सूरज की ताकतवर किरणों का इस्तेमाल करके ये सूर्य नूतन सौर चूल्हा आपके लिए एकदम नया अनुभव की अनुभूति प्रदान करेगा और इसके जरिए रसोई का खाना बनाने का खर्च तो बेहद घट जाएगा. सूर्य नूतन एक केबल से कनेक्ट होगा जो बाहर या छत पर लगी सोलर प्लेट से जुड़ा होगा. सोलर प्लेट से एनर्जी बनेगी जो पाइप या केबल के जरिए सौर चूल्हे तक आएगी. सोलर एनर्जी थर्मल प्लेट को पहले थर्मल एनर्जी के तौर पर स्टोर करेगी जिससे रात में भी खाना बन सकेगा.
चूल्हे की मौजूदा कीमत रिपोर्ट्स के मुताबिक 18000-30,000 रुपये के बीच है लेकिन सब्सीडी के बाद घटकर 10 से 12 हजार के बीच आ जाएगी. इसकी लाइफ 10 साल कम से कम है ।

 

One thought on “Surya Nutan: इंडियन ऑयल ने लॉन्च किया सौर चूल्हा , अब खाना पकाना होगा बेहद सस्ता, जानिए इसकी खासियत

Leave a Reply

Your email address will not be published.