उत्तराखंडऋषिकेशस्वास्थ्य

 भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के तत्वावधान में सप्तऋषि, हरिद्वार में स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया

 भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के तत्वावधान में सप्तऋषि, हरिद्वार में स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें 43 लोगों ने महादान किया। शिविर में स्वैच्छिक रक्तदान के लिए समीपवर्ती क्षेत्रों के नागरिकों ने बढ़चढ़कर प्रतिभाग किया। इस मौके पर एम्स संस्थान के चिकित्सकों ने लोगों को अमूल्य जीवन के संरक्षण के लिए रक्तदान के लिए आगे आने को प्रेरित किया गया। एम्स ऋषिकेश के सहयोग से सप्तऋषि ऑटो चालक एवं मालिक समिति, सप्तसरोवर रोड द्वारा कच्छी आश्रम में रक्तदान शिविर आयोजित किया गया। जिसमें 65 लोगों ने पंजीकरण कराया, इनमें से आवश्यक परीक्षण के बाद 43 लोगों ने स्वैच्छिक रक्तदान किया। संस्थान की ओर से जनजागरुकता के उद्देश्य से वि​भिन्न क्षेत्रों में चलाए जा रहे रक्तदान जागरुकता अभियान के बाबत एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने बताया कि रक्तदान के संकल्प से हम दूसरों को जीवनदान दे सकते हैं,लिहाजा रक्तदान से बढ़कर जिंदगी में कोई दूसरा श्रेष्ठ दान नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि सभी स्वस्थ लोगों को किसी भी जरूरतमंद व्यक्ति की सहायता व उसके जीवन के संरक्षण के लिए रक्तदान अवश्य करना चाहिए। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने बताया कि रक्तदान के प्रति लोगों को जागरुक करने के उद्देश्य से ही संस्थान उत्तराखंड व उत्तरप्रदेश के वि​भिन्न क्षेत्रों में रक्तदान शिविरों के माध्यम से सतत मुहिम चला रहा है, बताया कि इसके लिए संस्थान द्वारा दूसरी संस्थाओं को भी प्रेरित किया जा रहा है, जिससे समाज में रक्त की कमी को पूरा किया जा सके। संस्थान की ट्रांसफ्यूजन मेडिसिन एंड ब्लड बैंक विभागाध्यक्ष डा. गीता नेगी ने बताया कि एम्स संस्थान की ओर से एम्स ब्लड बैंक के अलावा विभिन्न इलाकों में प्रत्येक माह रक्तदान शिविरों के जरिए लोगों को रक्तदान के लिए जागरुक किया जा रहा है। जिससे दुर्घटना के समय जरूरतमंद लोगों को समय पर रक्त उपलब्ध कराकर अमूल्य जीवन का संरक्षण किया जा सके। उन्होंने बताया ​कि कोई भी स्वस्थ मनुष्य जो रक्तदान महाअभियान में सहभागिता करना चाहते हों, किसी भी कार्य दिवस पर एम्स के ब्लड बैंक में आकर रक्तदान कर सकते हैं। शिविर में आयोजक अमर सिंह बडियारी, नवीन जोशी, एम्स के डा. पंदीप कौर, डा. सारिका अग्रवाल, डा. अश्विन के. मोहन, चिकित्सा सामाजिक कार्यकर्ता दिनेश चंद्र, नर्सिंग ऑफिसर दीपेंद्र सिंह, विनोद थपलियाल, रोशन लाल, रीता देवी आदि ने सहयोग किया।

Rajnish Kukreti

About u.s kukreti uttarakhandkesari.in हमारा प्रयास देश दुनिया से ताजे समाचारों से अवगत करना एवं जन समस्याओं उनके मुद्दो , उनकी समस्याओं को सरकारों तक पहुॅचाने का माध्यम बनेगा।हम समस्त देशवासियों मे परस्पर प्रेम और सदभाव की भावना को बल पंहुचाने के लिए प्रयासरत रहेगें uttarakhandkesari उन खबरों की भर्त्सना करेगा जो समाज में मानव मानव मे भेद करते हों अथवा धार्मिक भेदभाव को बढाते हों।हमारा एक मात्र लक्ष्य वसुधैव कुटम्बकम् आर्थात समस्त विश्व एक परिवार की तरह है की भावना को बढाना है। हम लोग किसी भी प्रतिस्पर्धा में विस्वास नही रखते हम सत्यता के साथ ही खबर लाएंगे। हमारा प्रथम उद्देश्य उत्तराखंड के पलायन व विकास पर फ़ोकस रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *