Uncategorized

विश्व इतिहास का वह कौन सा बहुत बुरा व्यक्ति है जिसके बारे में अधिकांश लोग नहीं जानते

विश्व इतिहास का वह कौन सा बहुत बुरा व्यक्ति है जिसके बारे में अधिकांश लोग नहीं जानते?

जब वो छोटा था, वो चिड़ियों को पकड़कर उनकी आंखें फोड़ता और पंख चीरता था, क्योंकि उसे ऐसा करने में मज़ा आता था।

अपने महल की छत से बिल्लियों और कुत्तों को फेकता था, ताकि उनकी चीख सुन सके।

औरतों का बलात्कर करने के बाद उन्हें या तो ज़िंदा गाढ़ देता, या भालुओं को खिला देता।

अपनी सेना को तैयारी करने के लिए उसने ओप्रिच्निना नाम की संस्था बनाई, जिसमें वो घोड़े पर बैठकर शहर में निकलते और जिसे मन करता है उसे मार देते।

ओप्रिच्निना में सफ़ल होने वाले सैनिकों को नंगी लड़कियों पर निशाना लगाने को दिया जाता था।

हर रोज वह सैकड़ों भिखारियों को झील में डूबा के मारता था।

उसने अपनी वित्त मंत्री को पका कर खा लिया।

नोवगोरोद हिंसा के समय उसने लगभग 2000 लोगों को जिंदा तंदूर में डाल दिया।

उसके शासन के समय अक्सर वोल्कोहोव नदी में लोगों की लाशें बहती थी।

उसने एक औरत से ज़बरदस्ती शादी करके अपनी सातवी बीवी बनाया। उसके बाद उसने उसे डुबाकर मार डाला क्योंकि उसे पता चला कि वो वर्जिन नहीं थी।

अपने सभी दोस्तों को उसने बहुत दर्दनाक मौत दी।

एक बार उसे अपनी बहू के कपड़े पसंद नही आए। उसने अपनी बहू को इतना मारा की उसकी कोख में पल रहे बच्चे की मौत हो गई।

इस बात के चलते उसका अपने बेटे के साथ झगड़ा हो गया। उसने अपने बेटे को बहुत मारा। जब तक उसका ध्यान गया कि उसने क्या किया, बहुत देर हो चुकी थी। उसका बेटा मर गया।

कुल मिलाकर उसके शासन में लगभग 2 लाख 20 हज़ार लोगों को मारा गया।

वो था – रूस का सम्राट और त्सार पीढ़ी का पहला राजा इवान द टेरीबल।

कहा जाता है कि अपने पिता को 3 साल और माँ को 8 साल की उम्र में मरता देखने के बाद उसे गहरा सदमा लगा था, जिसके बाद से उसके अंदर से उसकी सारी भावनाएं खत्म हो गई।

बोल्शेविक आंदोलन के समय व्लादिमीर लेनिन इवान द टेरीबल का ही उदाहरण देकर लोगों को बताता था कि अगर अभी त्सार परिवार तो खत्म नहीं किया, तो ऐसा राजा फिरसे आ सकता है, और फिर रूस के लोग कुछ नहीं कर पाएंगे।

वैसे इतिहासकार तो इवान द टेरीबल के बारे में जानते हैं, लेकिन भारत के ज़्यादातर लोगों को इस बारे में कोई ज्ञान नहीं (वैसे ही जैसे रूस के लोगों को औरंगज़ेब के बारे में कोई ज्ञान नहीं)।

एडिट: एक आखिरी बात। जैसा मैंने बताया था, इवान द टेरीबल ने अपने बेटे को पीट पीटकर मार डाला था। जिस समय उसका बेटा मर रहा था, उसका ध्यान गया कि उसने क्या कर दिया। इसके ऊपर एक तस्वीर भी है, जिसे रूस की सबसे मशहूर पेंटिंग में गिना जाता है।

पहली झलक में लगता है कि वो सिर्फ अपने बेटे को कलेजे से लगाकर रो रहा है। लेकिन एक बार गौर से उसकी आँखों में देखो। वो अपने बेटे का खून पी रहा है!

माफ करना अगर तुम आज रात इस तस्वीर को याद करके सो न पाओ तो।

Rajnish Kukreti

About u.s kukreti uttarakhandkesari.in हमारा प्रयास देश दुनिया से ताजे समाचारों से अवगत करना एवं जन समस्याओं उनके मुद्दो , उनकी समस्याओं को सरकारों तक पहुॅचाने का माध्यम बनेगा।हम समस्त देशवासियों मे परस्पर प्रेम और सदभाव की भावना को बल पंहुचाने के लिए प्रयासरत रहेगें uttarakhandkesari उन खबरों की भर्त्सना करेगा जो समाज में मानव मानव मे भेद करते हों अथवा धार्मिक भेदभाव को बढाते हों।हमारा एक मात्र लक्ष्य वसुधैव कुटम्बकम् आर्थात समस्त विश्व एक परिवार की तरह है की भावना को बढाना है। हम लोग किसी भी प्रतिस्पर्धा में विस्वास नही रखते हम सत्यता के साथ ही खबर लाएंगे। हमारा प्रथम उद्देश्य उत्तराखंड के पलायन व विकास पर फ़ोकस रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *