अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के एडवांस सेंटर ऑफ कंटीनीवस प्रोफेशनल डेवलपमेंट( सीपीडी) विभाग की ओर से कोरोना वायरस कोविड 19 को लेकर एयर-वे मैनेजमेंट प्रशिक्षण कार्यशाला विधिवत शुरू हो गई

Spread the love

ऋषिकेश:- अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के एडवांस सेंटर ऑफ कंटीनीवस प्रोफेशनल डेवलपमेंट( सीपीडी) विभाग की ओर से कोरोना वायरस कोविड 19 को लेकर एयर-वे मैनेजमेंट प्रशिक्षण कार्यशाला विधिवत शुरू हो गई। जिसमें संस्थान के सभी विभागों के जूनियर रेजिडेंट्स, सीनियर रेजिडेंट्स चिकित्सक, फैकल्टी व नर्सिंग ऑफिसर्स को कोविड-19 से पीड़ित व कारोना वायरस आशंकित मरीजों को वेंटीलेटर सपोर्ट देने के लिए आवश्यक एयरवेज मैनेजमेंट का प्रशिक्षण दिया गया। बताया गया कि इस कार्यशाला में विशेष ध्यान रखा जाएगा कि मरीज को चिकित्सा सेवा देने वाले चिकित्सक, नर्सिंग स्टाफ व अन्य कर्मचारी अपनी सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए मरीज को बेहतरीन उपचार किस तरह दे सकते हैं। इस अवसर पर ​एम्स निदेशक पद्मश्री प्राेफेसर रवि कांत जी एम्स संस्थान के सभी चिकित्सकों, नर्सिंग ऑफिसर्स व अन्य कर्मचारियों को भरोसा दिलाया कि संस्थान की ओर से उन्हें कोविड 19 ग्रसित मरीजों के उपचार के लिए पूर्ण सहयोग दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस बीमारी के बचाव को लेकर अपनी सुरक्षा अपने ही हाथों में है, प्रत्येक व्यक्ति ​सोशल डिस्टेंसिंग व अन्य जरुरी हिदायतों का जितना पालन करेगा उतना ही वह इस बीमारी से सुरक्षित रह सकता है । निदेशक एम्स प्रो. रवि कांत जी ने आम जनता को भरोसा दिलाया कि कोविड पीड़ित व अन्य मरीजों को संस्थान उपयुक्त उपचार उपलब्ध कराएगा, इसके लिए संस्थागत स्तर पर सभी जरुरी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। सीपीडी विभागाध्यक्ष प्रो.शालिनी राव की देखरेख में आयोजित प्रशिक्षण कार्यशाला में निश्चेतना एनेस्थीसिया विभाग के डा. मृदुल धर, आपातकालीन इमरजेंसी विभाग की डा. अंकिता काबि, डा. पूनम अरोरा, ईएनटी के डा. अमित त्यागी, डा. अमित कुमार, डा. अभिषेक भारद्वाज, स्वांस रोग विभाग के डा. प्रखर शर्मा,डा. लोकेश सैनी व अन्य फैकल्टी मेंबर्स ने प्रशिक्षुओं को प्रशिक्षण दिया। कार्यशाला में सभी विभागों के चिकित्सकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.