दून निवासी भृगुवंशी ने बढ़ाया मान, अर्जुन पुरस्कार से हुए सम्मानित

देहरादून: भारतीय बास्केटबाल टीम के कप्तान दून निवासी विशेष भृगुवंशी को अर्जुन पुरस्कार से नवाजा गया है। भारतीय बास्केटबाल संघ ने उनके नाम की सिफारिश की थी। इससे पहले भी लगातार तीन वर्ष तक विशेष का नाम अर्जुन पुरस्कार के लिए भेजा गया था, लेकिन हर बार उन्हें नजरअंदाज कर दिया गया। अब जाकर चौथी बार में उन्हें इस सम्मान के लिए चुना गया है।

मूल रूप से वाराणसी (उत्तर प्रदेश) के रहने वाले विशेष वर्तमान में दून स्थित ऑयल एंड नेचुरल गैस कॉर्पोरेशन (ओएनजीसी) में कार्यरत हैं। वर्ष 2018 में विशेष ने दून की शैलजा असवाल से विवाह करने के बाद यहीं आशियाना बना लिया था। विशेष कई अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में भारतीय टीम का नेतृत्व कर देश को खिताब दिला चुके हैं। अर्जुन पुरस्कार मिलने पर विशेष ने कहा कि यह बेहद सुखद क्षण है। एक खिलाड़ी की यही तमन्ना होती है कि उसकी मेहनत का फल उसे मिले।

विशेष की उपलब्धियां

वर्ष 2019 में नेपाल में आयोजित दक्षिण एशियाई खेलों में भारतीय बास्केटबाल पुरुष टीम ने विशेष की कप्तानी में स्वर्ण पदक प्राप्त किया। वर्ष 2019 में ही चीन में हुए तीन गुणे तीन फीबा एशिया कप में भारतीय पुरुष टीम का प्रतिनिधित्व किया। पहले भारतीय बास्केटबाल खिलाड़ी, जिनका चयन ऑस्ट्रेलियन राष्ट्रीय बास्केटबाल लीग के लिए हुआ है। उन्हें एशिया के मोस्ट वैल्युएबल खिलाड़ी का अवार्ड भी दिया गया है। भारतीय टीम ने विशेष की कप्तानी में 2014 में पांचवें फीबा एशिया बास्केटबाल कप में पहली बार चीन को पराजित किया। इसमें विशेष ने सर्वोच्च अंक अॢजत किए। विशेष एशियाई खेल 2010 व 2014, ब्रिक्स खेल, लूसोफोनिया गेम्स, फीबा एशिया कप और साउथ एशियन गेम्स में भारतीय टीम की कप्तानी की। राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में सर्वाधिक पदक (नौ स्वर्ण, तीन रजत व दो कांस्य) प्राप्त करने का रिकॉर्ड। विशेष ने अब तक सात राष्ट्रीय फेडरेशन कप में प्रतिभाग किया है। पांच बार विशेष को प्रतियोगिता के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी का पुरस्कार भी प्राप्त हुआ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *