उत्तराखंडचर्चित मुद्दादेहरादून

 *परशुराम जयंती पर घर घर दीप उत्सव मनाया जाएगा।

 *परशुराम जयंती पर घर घर दीप उत्सव*
अक्षय तृतीया विष्णु के छठे अवतार चिरंजीवी भगवान परशुराम जी के जन्म उत्सव एवं देवभूमि उत्तराखंड की चार धाम यात्रा के आरम्भ/कपाट खुलने के शुभ  अवसर को सांकेतिक रूप से घर घर दीप प्रजलवित कर मनाया जाएगा।
अक्षय तृतीया तिथि  25 अप्रैल को प्रातः 11:51 मिनट पर आरम्भ होकर 26 अप्रैल को अपराह्न 12:19 मिनट तक होगी।
 ब्राह्मण समाज महासंघ उत्तराखंडः ने कोरोना महामारी के कारण व्याप्त लॉक डाउन के कारण परशुराम जयंती से संबंधित समस्त कार्यक्रमो को निरस्त कर दिया  है। तथा ब्राह्मण जन व देश प्रदेश की जनता से आग्रह किया है की भगवान परशुराम जी का जन्म उत्सव व चारधाम के कपाट खुलने का उत्सव लॉक डाउन के नियमो का पालन करते हुए सभी अपने घरों के मुख्य द्वार ,छत,छज्जे अथवा बालकनी में दिनांक 25 अप्रैल को सांय 7:30 बजे उत्तर दिशा की और मुख कर  एक,पांच या ग्यारह दीप प्रजलवित करे।
 घण्टी शंख की ध्वनि के साथ प्रभु से देवभूमि की चारधाम यात्रा की कुशलता व कोरोना महामारी से मुक्ति की प्रार्थना करे।
देवभूमि उत्तराखंड में प्रभु की कृपा से अभी कोरोना महामारी के कारण कोई जन हानि नही हुई है।
         देवभूमि उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के संरक्षक गुरु राम राय जी महाराज ने नगर का समस्त संकट अपने ऊपर ले लिया इस वर्ष के झंडा रोहण में गुरु के ध्वज का खंडित होना जनता को सचेत करना व आपदा को रोकने का प्रतीक रहा।
ब्राह्मण समाज महासंघ उत्तराखंड में देहरादून नगर की दस ब्राह्मण संस्थाए जुड़ी है जिनमे हज़ारो ब्राह्मण जन सदस्य है इनके साथ साथ सभी नागरिकों से महासंघ ने प्रार्थना की है की सभी 25 अप्रैल को घर घर दीप उत्सव करे।
         अखिल भारतीय देवभूमि ब्राह्मण जन सेवा समिति के साथ संकट के साथी बन  समिति के सदस्य एवं सहयोगियों द्वारा समिति कार्यलय से लगातार राशन वितरण कर लॉक डाउन के कारण संकट में आये नागरिको का सहयोग किया जा रहा है समिति के कार्यलय से अब तक 200 से ज्यादा परिवारो को राशन किट  उपलब्ध करवाई गई है तथा भगवान परशुराम जी के जन्म उत्सव अक्षय तृतीया के शुभ अवसर पर 26 अप्रैल को भी  समिति कार्यलय से 50 से अधिक किट जनता को उपलब्ध करवाई जाएगी।

Rajnish Kukreti

About u.s kukreti uttarakhandkesari.in हमारा प्रयास देश दुनिया से ताजे समाचारों से अवगत करना एवं जन समस्याओं उनके मुद्दो , उनकी समस्याओं को सरकारों तक पहुॅचाने का माध्यम बनेगा।हम समस्त देशवासियों मे परस्पर प्रेम और सदभाव की भावना को बल पंहुचाने के लिए प्रयासरत रहेगें uttarakhandkesari उन खबरों की भर्त्सना करेगा जो समाज में मानव मानव मे भेद करते हों अथवा धार्मिक भेदभाव को बढाते हों।हमारा एक मात्र लक्ष्य वसुधैव कुटम्बकम् आर्थात समस्त विश्व एक परिवार की तरह है की भावना को बढाना है। हम लोग किसी भी प्रतिस्पर्धा में विस्वास नही रखते हम सत्यता के साथ ही खबर लाएंगे। हमारा प्रथम उद्देश्य उत्तराखंड के पलायन व विकास पर फ़ोकस रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *