विधायक विनोद चमोली व मेयर सुनील उनियाल गामा , गैरसैण की घोषणा के बाद शहीदों को श्रद्धांजली देने पहुचे पर उत्तराखण्ड राज्य आन्दोलनकारी मंच के सदस्यों का नाराजिगी का करना पड़ा सामना

Spread the love


आज दिनांक 09-मार्च को धर्मपुर विधायक विनोद चमोली व मेयर सुनील उनियाल गामा , गैरसैण की घोषणा के बाद शहीदों को श्रद्धांजली देने पहुचे थे।
इस अवसर पर राज्य आन्दोलनकारी मंच ने दोनों के समक्ष अपनी नाराजगी व्यक्त कराते हुए कहा कि *दिनांक 05-दिसम्बर को प्रातः 10-30 बजे शहीद स्मारक से विधान सभा कूच किया गया था* परन्तु अभी तक कोई निस्तारण नहीं हुआ। सभा के बीच ही दोनों को ही ज्ञापन भी प्रेषित किया औऱ सरकार से जल्द पूरा करेँ अन्यथा अप्रेल माह से सड़को पर आन्दोलन को मजबूर होगे।
राज्य आन्दोलनकारी मंच के जिला अध्यक्ष प्रदीप कुकरेती ने परिसर मेँ *08 सूत्रीय मांग पत्र को* पढ़कर सुनाया क्योंकि इस पर कोई कार्यवाही नही करने व गैरसैंण को स्थायी राजधानी घोषित ना करने आदि को लेकर सभी राज्य आन्दोलनकारियों ने अपना आक्रोश व्यक्त किया।
रामलाल खंडूड़ी ने कहा कि राज्य सरकार गैरसैण सत्र मेँ जल्द ही एक विधि पेनल बनाया जाय जिससे 25-वर्षो बाद मुजफ्फरनगर काण्ड के हुए कृत्य पर मातृ शक्ति को न्याय मिल सके। इससे सरकार मातृ शक्ति के बलिदान का वादा भी पूरा करेँ। प्रदीप कुकरेती ने मेयर से कहा कि परेड सामूहिक धरना स्थल को परेड मेदान के ही दुसरे स्थान पर नियत किया जाय। जिससे शासन प्रशासन व सामाजिक संगठनो को भी परेशानी नहीं होगी।
प्रदेश महासचिव रामलाल खंडूड़ी ने मेयर से अपील की कि जोगीवाला 06-नम्बर पुलिया पर बढ़ रही सब्जियों की बेतरतीब ढेलिया लगातार बढ़ती जा रही है़ जिससे पूरे जाम की स्तिथि बनी रहती है़ इसके निस्तारण की मांग की।

*राज्य आन्दोलनकारियो का 08-सूत्रीय मांग पत्र*
✊🏻 मुजफ्फरनगर काण्ड के दोषियों को सजा।
✊🏻 राज्य आन्दोलनकारियों के *10% शिथिलता का एक्ट जारी करना* व चिन्हिकरण के लम्बित मामलों के साथ ही एक समान पेंशन व सम्मान परिषद का गठन करना।
✊🏻 स्थाई राजधानी गैरसैण बनना।
✊🏻 समूह ग मेँ बाहरी पात्रों क़ी भर्तियों पर रोक के साथ ही फारेस्ट भर्ती रद्द कर अधिकारियों पर कार्यवाही की जाय।
✊🏻 राज्य मेँ लोक आयुक्त गठन।
✊🏻 राज्य के भू-कानून मेँ शीघ्र बदलाव किया जाय व भू-खरीद पर रोक लगाई जाय।
✊🏻 राज्य मेँ भविष्य का होने वाले परिसीमन क्षेत्रफल के आधार पर हो।
✊🏻 छात्रों एवं आन्दोलनकारियों पर जनहित क़ी मांग पर लगे मुकदमे वापस हो।
आज बेठक मेँ मुख्यतः रामलाल खंडूड़ी , प्रदीप कुकरेती , वेदानन्द कोठारी , धर्मपाल रावत , जीतपाल बर्त्वाल , विनोद असवाल , पुष्कर बहुगुणा , ध्यान पाल , अनुराग भट्ट , सुरेश कुमार , गौरव खंडूड़ी , सुनील नौटियाल , प्रभात डड्रियाल , अनिल राणा , संदीप पट्वाल , सुलोचना भट्ट , अरुणा थपलियाल , विध्या बिष्ट , मोहम्मद शाहिद , मोहन खत्री , , सतीष कश्यप , राधा तिवारी , रावत , प्रभात डड्रियाल , मौजूद रहे।
इस अवसर पर देहरादून बार के अध्यक्ष मनमोहन क्ण्ड्वाल व सचिव अनिल शर्मा (चीनी) व
होली की शुभकामनाओ के साथ।
*प्रदीप कुकरेती*
जिला अध्यक्ष।

Leave a Reply

Your email address will not be published.