जम्मू में कल सजेगा केंद्र शासित सरकार का दरबार, पहली बार लहराता हुआ नजर आएगा राष्ट्रीय ध्वज

Spread the love

जम्मू कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद सरकार का पहला दरबार सोमवार चार नवंबर को जम्मू में सज जाएगा। सुबह ठीक साढ़े नौ बजे उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू सचिवालय पहुंचेंगे और गार्ड ऑफ आनर का निरीक्षण करेंगे। इस दौरान सबसे खास बात यह होगी कि दरबार खुलने के अवसर पर नागरिक सचिवालय की इमारत पर पहली बार केवल राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा ही फहरा रहा होगा।

रविवार को नागरिक सचिवालय में दिन भर रौनक रही। सुरक्षा को पुख्ता बनाने के बंदोबस्त चलते रहे। नागरिक सचिवालय के सामने वाली सड़क को लोगों की आवाजाही के लिए बंद कर दिया गया। सुरक्षा घेरे को मजबूत बना दिया गया। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार मुर्मू गार्ड ऑफ आनर का निरीक्षण करने के बाद सचिवालय परिसर में विभिन्न विभागों के कार्यालयों का दौरा भी करेंगे।

सचिवालय के कर्मचारियों से मुलाकात कर जम्मू में उनके लिए इंतजाम की जानकारी भी हासिल करेंगे। उपराज्यपाल प्रशासनिक सचिवों के साथ भी बैठक कर सकते हैं। दरबार खुलने पर उपराज्यपाल एक्शन मोड में रहने के संकेत दे चुके हैं। वह प्रशासनिक अधिकारियों को पारदर्शी तरीके से काम करने और जवाबदेही के साथ जन आकांक्षाओं को पूरा करने के निर्देश भी दे चुके हैं।

दिन भर व्यवस्थाएं जांचते रहे अधिकारी

नागरिक सचिवालय में व्यवस्थाओं के निरीक्षण के लिए विभिन्न विभागों के प्रशासनिक सचिव व अन्य संबंधित अधिकारी दिन भर सचिवालय में पहुंचते रहे। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को दरबार खुलने से पहले सभी इंतजाम पूरे करने के भी निर्देश दिए।

जन समस्याएं सुनने को बनेगी समयसारिणी
जम्मू में नागरिक सचिवालय के खुलने के बाद उपराज्यपाल प्रशासन जन समस्याओं की सुनवाई के लिए समयसारिणी निर्धारित करने की तैयारी में जुट गया है। आधिकारिक सूत्रों की मानें तो कामकाजी दिनों में दोपहर के समय एक से डेढ़ घंटे का समय प्रशासनिक सचिवों को जनता की समस्याएं सुनने के लिए रखा जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.