समाजसेवी सुशील बहुगुणा जी व उनके साथियों ने उत्तराखंड से रिवर्स पलायन पर की सकारात्मक पहल *बौड़ी जा*स्लोगन देकर ।

Spread the love

 

*बौड़ी जा*
*Movement For Reverse Migration*
साथियों !
*कोराना* जैसे वैश्विक महामारी ने हमारे देश के साथ साथ विश्व के सबसे ताकतवर देशो को भी हिला के रख दिया है,
वही हमारा राज्य भी इससे अछूता नहीं है हमारा राज्य उत्तराखंड जो कि मैदानी और पहाड़ी जिलों में बंटा है ,.आज कोरोना की दुधारी मार सह रहा है क्योंकि उत्तराखंड के मैदानी जिले कोरोना वायरस की मार झेल रहे हैं और पहाड़ी जिले आर्थिक तंगी से बदहाल हैं क्योंकि हमारी अर्थव्यवस्था *मनीऑर्डर* है लेकिन अब आलम यह है कि मनीआर्डर भेजने वाले या तो शहरों में बंद हैं या गांव वापस आ गए हैं ।
जो लोग *रिवर्स पलायन* कर चुके हैं lockdown खुलने के बाद उनके सामने रोजगार का संकट पैदा हो जाएगा क्योंकि महानगरों में जहां भी वे काम कर रहे थे वे उद्योग या व्यवसाय भी अब पहले जैसे नहीं रह पाएंगे, ऐसे में ये सभी लोग एक बड़ी दुविधा में होंगे की , स्थिति सामान्य होने के पश्चात हमें वापस महानगर में जाना है या घर-पहाड़ में रहकर ही कोई व्यवसाय या स्वरोजगार पाना है और रिवर्स पलायन कर चुके इन्हीं सैकड़ों लोगों की दुविधा को नजर में रखते हुए मैंने और मेरे कुछ साथियों ने आपसी विचार विमर्श करके *बौड़ीजा* **मूवमेंट फार रिवर्स पलायन** नाम से एक पहल शुरू की है जिसमें अपना रोजगार खो चुके या खोने जा रहे सैकड़ों हमारे जिला वासियों की मदद की जा सके, यह मदद उन्हें स्वरोजगार अपनाने या जिले के अंतर्गत ही रोजगार पाने में की जाएगी, इसकी विस्तृत रूपरेखा जल्द ही आप लोगों के साथ साझा की जाएगी ।
जितने भी लोग हमारी इस पहल से जुड़ना चाहते हैं या लाभ पाना चाहते हैं वे दिए गए व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन कर अपनी सहमति एवं सहभागिता देने का कष्ट करें आपका

https://chat.whatsapp.com/HHIf8o4uJNyHoyMgvUy4jP
*सुशील बहुगुणा*

Leave a Reply

Your email address will not be published.