राजकुमार ने मेड इन चाइना के सहारे दुनिया को दिया एक सोशल मेसेज

Spread the love

बॉलीवुड – स्त्री के बाद एक बार फिर फिल्ममेकर दिनेश विजान और राजकुमार राव साथ आए हैं। मेड इन चाइना एक साधारण गुजराती शख्स के एंटरप्रन्योर बनने की दिलचस्प कहानी को कॉमेडी के तड़के के साथ दिखाती है। मेड इन चाइना पुरुषों की सेक्सुअल प्रॉब्लम और समाज में सेक्स को लेकर बने टैबू-संकोच को दूर करने का मैसेज देती है।  फिल्म में रघु मेहता की कहानी है। जो तंगी के माहौल में जिंदगी बसर कर रहा रघु जीवन में कुछ बड़ा करना चाहता है। वो एक सक्सेसफुल एंटरप्रन्योर बनने का सपना देखता है। अपने सपनों को उड़ान देने के लिए रघु नए नए बिजनेस आइडिया पर काम करता है। लेकिन उसका कोई भी बिजनेस नहीं चलता। इस बीच रघु अपने कजिन देवराज  संग खानदानी बिजनेस के सिलसिले में चीन जाता है। वहां जाकर रघु की जिंदगी यू-टर्न लेती है। रघु की मुलाकात चीन के नामी बिजनेसमैन से होती है जो कि मैजिक सूप बेचता है। चीनी बिजनेसमैन रघु को अपने साथ बिजनेस करने के लिए धमकाता है। इस बिजनेस में मुनाफा देखा रघु भारत आकर सेक्सोलॉजिस्ट डॉ. वर्दी संग मिलकर इस बिजनेस को करने की ठानता है। अब रघु घरवालों से छुपकर मैजिक सूप का बिजनेस करता है।

लेकिन तब आता है कहानी में ट्विस्ट। अहमदाबाद में इंडो चाइना फेस्टिवल में बतौर गेस्ट पहुंचे चीनी अफसर की रघु का मैजिक सूप पीने से मौत हो जाती है। पुलिस रघु को गिरफ्त में ले लेती है। अब क्या रघु के मैजिक सूप से ही चाइनीज जनरल की मौत हुई थी? क्या रघु का एंटरप्रन्योर बनने का सपना जेल की सलाखों तक सिमट कर रह जाएगा? रघु के बिजनेसमैन बनने की एंटरटेनिंग कहानी और बाकी ट्विस्ट्स को जानने के लिए आपको ये फिल्म देखनी पड़ेगी। फिल्म में मौजूद सभी कलाकारों ने बढ़िया एक्टिंग की है। राजकुमार राव और बोमन ईरानी हर फ्रेम में जचे हैं। बोमन को देख थ्री इडियट्स का साइरस याद आता है। एक्टिंग के मामले में कुछ सीन्स में बोमन राजकुमार राव पर भारी पड़े हैं। मौनी रॉय इस फिल्म में भी रॉ और गोल्ड जैसी ही नजर आई हैं। सुमित वयास, गजराज राव और परेश रावल कम सीन्स में भी अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहे हैं। राजकुमार राव का काम अच्छा है लेकिन अब उन्हें अपने रोल्स में थोड़ी वैरायटी जोड़ने की जरूरत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.