फ़िल्म ऐसी की प्रेम टाकीज में देखने के बजाय बाहर ही खुले में देखने पड़ गई। ऐसी फिल्म इस टाकीज में क्या देश भर मे भी कही नही लगी होगी। पति पत्नी और नकली बेटा।

बागेश्वर, ऐसी फिल्म तो हल्द्वानी के प्रेम टॉकीज के भीतर भी कभी न चली होगी, जैसी शुक्रवार की शाम बाहर नजर आई। यहां दसवीं-नौवीं कक्षा में पढ़ने वाले नाबालिग 16 व 15 वर्ष की उम्र के लड़का-लड़की बिना शादी के ही पति-पत्नी के रूप में मिले। यही नहीं उनके साथ चौथी कक्षा में पढ़ने वाला एक बच्चा बिन उनकी शादी के ही उनके बेटे की भूमिका में नजर आया। गनीमत रही कि हल्द्वानी पुलिस की सक्रियता से कोई अनहोनी होने से पहले टल गई।
हुआ यह कि बागेश्वर के कठायतबाड़ा के रहने वाले कक्षा दस के छात्र को उसके ही स्कूल में नौवीं कक्षा में पढ़ने वाली छात्रा से प्यार हो गया और दोनों शादी करने की सोचने लगे। घर वाले 15 व 16 साल की उम्र में उनकी शादी करने को राजी नहीं थे। इसलिए दोनों ने घर छोड़कर भागने की योजना बनाई। लोगों को लगे की वह शादीशुदा जोड़ा हैं, और उन पर किसी को शक ना हो। इसके लिए उन्होंने पहले पति-पत्नी के रूप में अपना पूरा मेकअप किया। इसके बाद भी किसी को शक ना हो, इसके लिए अपने ही विद्यालय के एक कक्षा चार में पढ़ने वाले नौ साल के लड़के को अपना नकली बेटा बनने के लिए तैयार किया। और खुद पति-पत्नी और उसे अपना बेटा बनाकर बीते शुक्रवार को तीनों नाबालिग आसानी से लोगों की नजरों से बचते हुए बागेश्वर से भागकर हल्द्वानी पहुंच गए। हल्द्वानी शाम को पहुंचे तो उन्हें समझ ही नही आया कहां जाएं तो वह प्रेम टॉकीज के पास एक जगह पर बैठ गए। उधर उनके परिजनों ने बागेश्वर में कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करा दी। जबकि इधर शुक्रवार की देर रात हल्द्वानी पुलिस ने गश्त के दौरान तीनों को प्रेम टाकीज के पास देखा। इस पर बागेश्वर पुलिस को इसकी सूचना दी गई। बच्चों के अभिभावक पुलिस के साथ इन तीनों को लेने हल्द्वानी पहुंचे और रविवार की सुबह तीनों नाबालिगों को उनके मां-बाप को सौंप दिया। पूछताछ में इस सारी घटना का खुलासा हुआ तो पुलिस कर्मी भी दंग रह गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *