उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष और पूर्व मंत्री धीरेंद्र प्रताप ने दिल्ली के मोती नगर में 29 फरवरी को मारे गए उत्तराखंडी युवक विनोद प्रसाद ममगाईं के हत्यारों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की है ।

Spread the love

देहरादून :- उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष और पूर्व मंत्री धीरेंद्र प्रताप ने दिल्ली के मोती नगर में 29 फरवरी को मारे गए उत्तराखंडी युवक विनोद प्रसाद ममगाईं के हत्यारों को तत्काल गिरफ्तार करने की मांग की है ।धीरेंद्र प्रताप ने कहा है कि ममगांई की हत्या को अब जबकि 2 महीने से भी ज्यादा हो गए हैं ।आज तक भी दिल्ली पुलिस ने उनकी पत्नी हेमा मंमगाई को ना तो उनकी पोस्टमार्टम की रिपोर्ट दी है और ना ही विसरा जांच के नतीजों से उनको अवगत कराया गया है। धीरेंद्र प्रताप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ,गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पत्र भेजकर ट्विटर के माध्यम से इस मामले में तत्काल कार्रवाई करने और दिवंगत की पत्नी हेमा मंमगाई को सरकार की तरफ से उचित मुआवजा और न्याय दिलाए जाने की मांग की है। उल्लेखनीय है यह हत्या उन दिनों हुई थी जब दिल्ली में दंगे हुए थे और अनेक लोगों की लाशे विभिन्न स्थानों पर कई -कई दिन बाद पड़ी मिली थी । उस दौरान जिन लोगों की हत्याएं हुई थी उनके परिवारों को 1000000 रुपए दिल्ली सरकार ने दिए थे लेकिन विनोद प्रसाद मंगाई की विधवा पत्नी को आज तक ₹1 भी दिल्ली सरकार ने नहीं दिया है। उसी दौरान 28 फरवरी को विनोद प्रसाद मंमगाई भी अपने घर से गए थे और दूसरे दिन उनकी लाश मोती नगर थाना क्षेत्र के नाली में मिली थी। धीरेन्द्र प्रताप ने दुख जताया कि इस मामले मै वे स्वयं दिल्ली पुलिस आयुक्त एस एन श्रीवास्तव से मिले थे ।परंतु अब तक भी इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं की गई। ना तो हत्यारों को पकड़ा गया और ना ही इस मामले में तथाकथित जांच का कोई नतीजा निकला। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि इस मामले में जल्द कार्रवाई न की गई तो उत्तराखंड के प्रवासी आंदोलन करने को मजबूर होंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.